Responsive Ad Slot

देश

national

प्रदेश

y

धर्म

Dharm

खेल

Sports

कारोबार

Business

टेक

Technology

प्रदेश

देश - दुनिया

VIDEO

Videos

News By Picture

Cinema

दुनिया

स्वास्थ्य

शिक्षा व नौकरी

30 सितम्बर तक चलेगा टीबी रोगी खोज अभियान

No comments

हरिकेश यादव- संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)

अमेठी।

राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत जनपद में 17 से 30 सितंबर तक सघन क्षय रोगी खोज अभियान चलाया जा रहा है। जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ पी के उपाध्याय ने बताया कि अभियान में श्रमिक बाजार ,ईंट भट्टा ,फल मंडी, सब्जी मंडी , साप्ताहिक बाजार, फुटपाथ पर रहने वाले लोग, निर्माणाधीन इमारतों पर काम करने वाले श्रमिकों की स्क्रीनिंग की जा रही है। उन्हों ने बताया कि यह अभियान तीन चरण में चलाया जा रहा  है, पहले चरण में वृद्धाआश्रम, मदरसा आदि जगह सक्रिय रोगियों को खोज की गई। दूसरे चरण में शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों की मलिन बस्तियों में लोगों की जांच की गई। तीसरा चरण 17 से 30 सितंबर तक चलेगाा, हमारी टीमें निरंतर पूरे जनपद में घूम घूमकर काम कर रही हैं । जनमानस से अपील है कि जो भी टीम सक्रिय क्षय रोगियों की खोज कर रही हैं उनके साथ पूरा समन्वय स्थापित किया जाए और जांच में पूरा सहयोग दिया जाए। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि यदि किसी व्यक्ति को दो हफ्ते से ज्यादा समय से खांसी आ रही हो, बुखार हो या वजन कम हो रहा है तो ऐसे मरीज स्वयं आगे बढ़ कर टीबी अस्पताल में आकर भी जांच करा सकते है।ताकि समय रहते उनका इलाज किया जा सके। उन्होंने  बताया कि तीसरे चरण के इस अभियान में क्षय उन्मूलन कार्यक्रम की टीमें चिन्हित स्थानों पर जाकर लोगों की स्क्रीनिंग कर रही हैं व अस्पताल में आने वाले संभावित क्षय रोगियों की भी खोज की जा रही है, इसके अलावा जनपद में तीसरे चरण में अभी तक 645 लोगों की स्क्रीनिंग की गई जिसमें 39  लोग चिन्हित लक्षण वाले पाए गए, 26 लोगो कि 26 लोगो की जांच कराई गई जिसमें 02 रोगी मिले। उन्होंने बताया कि जनपद के 1953621 जनसंख्या के सापेक्ष 12400 का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।निक्षय पोषण योजना के तहत क्षय रोगियों का पंजीकरण कर उनके भुगतान की भी प्रकिया तेज की जा रही है। पंजीकृत क्षय रोगी के बैंक खाते में इलाज के दौरान 500 रूपये की पोषण राशि प्रतिमाह भेजी जा रही है। जनपद की सभी सीएचसी सक्रिय क्षय रोगियों के खोज में जुटी हैं।

नंद घर परियोजना से जुड़े कर्मचारियों ने ग्रामीणों की किया जागरूक

No comments

हरिकेश यादव- संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)

अमेठी।

बाल विकास परियोजना भेटुआ के अंतर्गत संचालित  पूरब दरवाजा नंदघर के प्रांगण मे नुकड़ नाटक का विमोचन किया गया ।जिसमे स्कूली बच्चों व ग्रामीण महिलाओं ने भागीदारी लिया। इस नाटक के माध्यम से  रमेश कुमार के द्वारा लोगो को कोरोना, डेंगू और मलेरिया बीमारी के बारे मे जागरूक किया गया । साथ ही कोरोना की टीका लगवाने के लिए  बताया गया जिससे हमारे समाज मे फैले अफवाएं को कम किया जा सकें l सही जानकारी के साथ आगे बढे, जो टीका नहीं लगवाए है ,वह अपने  नजदीकी स्वास्थ्य  केंद्र पर जाकर टीका लगवाए l घर मे सोने के लिए मच्छरदानी का प्रयोग करें l इस मौके पर स्कूली बच्चों ने भी गीत संगीत व नित्य पेश कर ग्रामीण लोगो दिल जीत लिया l  इस कार्यक्रम मे  ऋचा सिंह, काजल गुप्ता, मीरा यादव , शशिलता सिंह सहायिका, मनोज, सुरेश कुमार, रंजीत, सुभाष सहित अन्य लोग मौजूद रहे।



अफगान आतंकियों ने की भारत में घुसपैठ, एजेंसियों ने जारी किया अलर्ट

No comments

नई दिल्ली

अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद से भारत की सुऱक्षा भी खतरे में आ गई हैं। दरअसल,  पहली बार अफगानिस्तानी आतंकियों के भारत में घुसने की खबर है। खुफिया एजेंसियों ने अलर्ट जारी करते हुए. किसी बड़े हमले की आशंका भी जाहिर की है।  सूत्रों के मुताबिक, आतंकियों के निशाने पर सेना के कैंप या बड़े सरकारी संस्थान हो सकते हैं।

पांच अफगान आतंकियों ने की थी उरी सेक्टर के एक पोस्ट से भारत में घुसपैठ
खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक, उरी सेक्टर के एक पोस्ट पर फैंस काटकर अफगान आतंकियों की घुसपैठ कराई गई है। अफगानी आतंकियों को भारत में घुसा कर वापस लौट रहे पाकिस्तानी आतंकियों से सुरक्षाबलों की मुठभेड़ हुई जिसमें एक सिपाही जख्मी हो गया था।  आतंकियों के पास से घातक हथियार भी बरामद हुए है। खुफिया रिपोर्ट के अनुसार,  18 सितंबर 2021 को पांच अफगान आतंकियों ने उरी सेक्टर के एक पोस्ट से भारत में घुसपैठ की है। 

सूत्रों के अनुसार, सेना द्वारा उरी सेक्टर में तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। ये पांचों आतंकी अफगानिस्तान से आए हैं, इसलिए कश्मीर में लोगों के बीच आसानी से घुलमिल नहीं सकते। सभी संदिग्ध जगहों पर छापेमारी की जा रही है वहीं जो लोग इन्हें शरण दे सकते हैं, उनसे भी पूछताछ की जा रही है। इसके साथ ही सेना के कैंप या बड़े सरकारी संस्थानों की सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है। 

© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company