Responsive Ad Slot

देश

national

बिहार: कोरोनावायरस को खत्म करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के कर्मी घर-घर जाकर कर रहे स्क्रीनिंग

Thursday, April 16, 2020

/ by Editor
पटना. 
कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन 2.0 का आज दूसरा दिन है। कोरोना के संक्रमण को रोकने और मरीजों की खोज के लिए पल्स पोलियो की तर्ज पर अभियान शुरू हो गया है। स्वास्थ्य विभाग के कर्मी घर-घर जाकर स्क्रीनिंग कर रहे हैं। 8 हजार से अधिक गांव में डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग की जाएगी। इस दौरान कोरोना के संक्रमितों की पहचान की जा रही है।

नालंदा: बिहारशरीफ में भी हुआ था मरकज का सम्मेलन
नालंदा जिले के बिहारशरीफ की एक मस्जिद में तब्लीगी मरकज का सम्मेलन हुआ था। सम्मेलन 14-15 मार्च को हुआ था। इसमें 600 से अधिक लोग शामिल हुए थे। जिला प्रशासन ने आपदा विभाग के प्रधान सचिव को पत्र लिखकर इसकी सूचना दी है।
वैशाली: पॉपुलर नर्सिंग होम के दायरे का तीन किलोमीटर इलाका सील 
वैशाली के कोरोना पॉजिटिव के पॉपुलर नर्सिंग होम में भर्ती होने की सूचना के बाद अस्पताल के तीन किलोमीटर के दायरे को सील किया गया है। आसपास हर घर में रहने वाले लोगों के स्वास्थ्य की जांच की जा रही है। नगर निगम की टीम हर गली में सैनिटाइजेशन कर रही है। 
सीवान: पीपापुल से हटाई लोहे की चादर, नाविकों पर भी रखी जा रही है नजर
सीवान जिले के दरौली में पंचमंदिरा घाट के पास सरयू नदी पर बने पीपा पुल पर लोगों की आवाजाही देख प्रशासन ने पुल से लोहे की चादर हटा दी है। इससे आवागमन बंद हो गया है। पीपा पुल की पटरियां भी खोल दी गईं। यह पुल यूपी और बिहार को जोड़ता है। प्रशासन ने नाव पर भी निगरानी रखी है। लॉकडाउन तक कोई भी नाव अथवा डेंगी नहीं चलने दी जा रही है।
नालंदा: खासगंज बना हॉटस्पॉट
नालंदा का खासगंज चार कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के बाद हॉटस्पॉट बन गया है। मोहल्ला के तीन किलोमीटर के दायरे में सभी घरों की स्क्रीनिंग की जा रही है। सैंपल लिया जा रहा है। तीन नए केस का स्रोत घर का ही सदस्य है, जिसकी ट्रैवल हिस्ट्री दुबई और पटना से जुड़ी है।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company