Responsive Ad Slot

देश

national

दिल्ली :दो कांस्टेबल कोराेना संक्रमित, एसएचओ समेत 80 पुलिसकर्मी क्वारेंटाइन

Friday, April 17, 2020

/ by Editor
नई दिल्ली. 
चांदनी महल थाने के दो पुलिस कांस्टेबल कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए। उन्हें इलाज के लिए एम्स अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, वहीं इनके संपर्क में आए अस्सी पुलिसकर्मियों को क्वारेंटाइन कर होटल में ठहराया गया है। इनमें एसएचओ समेत तीनों पुलिस इंस्पेक्टर शामिल हैं। पूरा थाना लगभग खाली हो चुका है, ऐसे में इलाके में कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए विजिलेंस के एक इंस्पेक्टर तारकेश्वर को अस्थाई तौर पर इस थाने का काम सौंपा गया है। जब से दोनों पुलिस कांस्टेबल की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई है, तभी से इस थाने में तैनात पुलिसकर्मियों में टेंशन है। अभी पुलिस स्टाफ की कोरोना रिपोर्ट आनी बाकी है। एहतियातन इस थाने को सेनिटाइज भी कराया जा चुका है।

दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि हजरत निजामुदीन में मरकज से निकले जमाती इधर-उधर मस्जिदों में चले गए थे। पिछले हफ्ते चांदनी महल इलाके की पुलिस ने अलग-अलग तेरह मस्जिदों से कुल 184 जमातियों को निकाला था, जिनमें 138 विदेशी थे। यहां मिले लोगों का कोराेना टेस्ट करवाया गया था, जिनमें 55 लोगों की टेस्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद प्रशासन ने बिना कोई देरी किए इस इलाके को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया। इसके बाद एक कैंप लगा थाने के स्टाफ का कोरोना टेस्ट करवाया गया था। जिनमें बुधवार को दो पुलिस कांस्टेबल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।
एसएचओ से लेकर कांस्टेबल स्तर के सभी पुलिसकर्मी को होटल में ठहराया
दोनों को ही काेरोना बीमारी के कोई लक्षण नहीं थे और वे थाने की बैरेक में ही रहते थे। इनमें एक कांस्टेबल थानाध्यक्ष बिनोद कुमार का ऑपरेटर है। एहतियात के तौर पर 80 पुलिसकर्मियों के स्टाफ को पहाड़गंज स्थित होटल में बने आइसोलेशन वार्ड में ठहराया गया है। इनमें एसएचओ से लेकर कांस्टेबल स्तर के सभी पुलिसकर्मी शामिल हैं। थाने का इतना स्टाफ क्वारेंटाइन किए जाने की वजह से आसपास थाने के पुलिसकर्मियों को काम पर लगाया गया है, ताकि क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनी रहे और लॉकडाउन पार्ट टू में सोशल डिस्टेसिंग के नियमों का पालन कराया जा सके।
सब इंस्पेक्टर, पत्नी, बच्चे में पाया गया कोरोना पॉजिटिव, पुलिस कॉलोनी सील
दिल्ली के मॉडल टाउन पुलिस कॉलोनी में रहने वाले सब इंस्पेक्टर, उसकी पत्नी और बच्चे के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद मॉडल टाउन इलाके की पुलिस कॉलोनी को क्वारंटाइन कर दिया गया है। यहां पुलिस कॉलोनी के जी,एच और आई ब्लॉक को क्वारेेंटाइन किया गया है। जानकारी के मुताबिक सब इंस्पेक्टर की पत्नी एक हॉस्पिटल में नर्सिंग स्टाफ हैं। वहीं अब पुलिस इनके कॉन्टेक्ट में आने वाले सभी लोगों की पहचान कर रही है। ताकि किसी भी तरह से बढ़ने वाले संक्रमण को रोका जा सके। 
अभी तक 18784 सैंपलों की हो चुकी जांच, 14692 की रिपोर्ट निगेटिव आई
गुरुवार तक कोरोना के 18784 सैंपलों की रिपोर्ट आई। इसमें सरकारी लैब में 15707 और प्राइवेट लैब में 3077 की जांच हुई। इसमें से 1640 पॉजिटिव थे, जबकि 14692 की रिपोर्ट निगेटिव आई। 2251 की रिपोर्ट आनी अभी बाकी है। 12,261 संदिग्ध घरों में आइसोलेट कोरोना के 12, 261 संदिग्ध अभी भी घरों में आइसोलेट हैं। 18722 ने अपने 14 दिन का आइसोलेशन पीरियड पूरा कर लिया है। कुल 30983 को घरों में आइसोलेट किया जा चुका है। कोरोना के 885 मरीज अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती हैं। इसके अलावा 775 लोगों को अलग-अलग जगह सेंटरों में क्वारेंटाइन किया गया है।  
डीआरडीओ दिल्ली में करेगा पीपीई व मास्क की जांच
देश के प्रमुख रक्षा उपक्रम, रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने कोरोना महामारी के उपचार में जुटे डाक्टरों तथा अन्य स्वास्थ्यकर्मियों के लिए जरूरी व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) और मास्क समय पर और तेजी से उपलब्ध कराने के लिए अपने जांच केन्द्र को ग्वालियर से दिल्ली स्थानांतरित कर दिया है। डीआरडीओ ने कहा कि पीपीई और मास्क की समय पर और तेजी से उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए उसने ग्वालियर स्थित अपने जांच केन्द्र को यहां स्थित इंस्टिट्यूट आफ न्यूक्लियर मेडिसिन एंड एलाइड साइंस (इनमास) में स्थानांतरित कर दिया है। इस केन्द्र को पीपीई और मास्क की जांच के लिए पूरी तरह तैयार कर दिया गया है और 10 बैच से भी अधिक वस्तुओं की इस प्रयोगशाला में जांच भी की जा चुकी है। डीआरडीओ की ग्वालियर स्थित प्रयोगशाला में अब विदेशों से आने वाले पीपीई और मास्क की जांच की जायेगी। इस जांच के बाद ये किट विभिन्न एजेंसियों को दिए जाएंगे।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company