Responsive Ad Slot

देश

national

एयर इंडिया ने 4 मई से घरेलू उड़ानों और 1 जून से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए टिकट बुकिंग शुरू की

Saturday, April 18, 2020

/ by Editor
नई दिल्ली. 

लॉकडाउन के कारण बंद हुई एयर इंडिया की उड़ानें जल्द ही शुरू हो सकती हैं। सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया ने शनिवार से टिकटों की बुकिंग शुरू की। कंपनी ने कहा है कि यात्री 4 मई से कुछ घरेलू और 1 जून से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए बुकिंग कर सकते हैं। वहीं, प्राइवेट एयरलाइंस पहले ही 3 मई से बुकिंग शुरू कर चुकी हैं। कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए लागू दूसरे फेज का लॉकडाउन 3 मई को खत्म होगा।


डीजीसीए और स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइन का पालन होगा
एयर इंडिया ने कहा, 'कोरोनावायरस के संकट को देखते हुए हमने घरेलू उड़ानों के लिए 3 मई और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए टिकट बुकिंग पर 31 मई तक टिकटों की बुकिंग पर रोक लगाई थी। हालांकि, अब बुकिंग जारी है। कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि शुरुआत में मेट्रो शहरों को जोड़ने वाली उड़ानें शुरू की जाएंगी। बाद में स्थिति को देखते हुए उड़ानों की संख्या बढ़ाई जाएगी। हम डीजीसीए और स्वास्थ्य मंत्रालय के सभी दिशा-निर्देशों का पालन करेंगे। इसमें विमान में स्वच्छता, चेक-इन और बोर्डिंग के दौरान यात्रियों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग और विमान में सीट खाली छोड़ने संबंधी निर्देश भी शामिल हैं।
3 मई तक है लॉकडाउन फेज-2
कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के कारण रेल, बस और हवाई सेवाएं पूरी तरह बंद हैं। एयर इंडिया ने घरेलू और अंतरराष्ट्रीय मार्गों पर कामर्शियल उड़ानें पहले 14 अप्रैल तक निलंबित की थी, हालांकि बाद में इसे बढ़ाकर 30 अप्रैल कर दिया गया था लेकिन लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ाए जाने के बाद टिकटों की बुकिंग को स्थगित ही रखा था। अब चूंकि लॉकडाउन की अवधि 3 मई 2020 को समाप्त हो रही है, ऐसे में एयर इंडिया ने 4 मई से दोबारा बुकिंग शुरू करने का फैसला किया है।
कैंसल टिकट पर कैश रिफंड भी
लॉकडाउन के दौरान बुक की गईं टिकटों पर क्रेडिट रिफंड और कैश रिफंड दोनों मिल रहा है। अगर आपकी टिकट 25 मार्च और 3 मई के बीच है तो एयरलाइन क्रेडिट रिफंड की सुविधा दे रही है जिसके तहत यात्रा को री-शेड्यूल कर सकते हैं। बाद में एविएशन मिनिस्ट्री के आदेश पर 25 मार्च से 14 अप्रैल के बीच टिकट बुकिंग पर कैश रिफंड दिया जा रहा है।
एयर इंडिया को रोजाना 30 से 35 करोड़ रुपए का नुकसान
एक अनुमान के मुताबिक, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानें रद्द होने से एयर इंडिया को रोजाना 30 से 35 करोड़ रुपए का नुकसान हो रहा है। एयर इंडिया का कहना है कि फ्लाइट बंद होने के चलते फ्यूल, ग्राउंड हैंडलिंग, एयरपोर्ट चार्ज पर होने वाले खर्च बच रहा है लेकिन सैलरी, अलाउंसेस, लीज रेंट और मिनिमम मेंटेनेंस और इंटरेस्ट पेमेंट देना होगा। एयर इंडिया की डेली आमदनी करीब 60 से 65 करोड़ रुपए है। इसमें से 90% कमाई पैसेंजर ट्रैवल से होती है। कंपनी कर्मचारियों की सैलरी पर 250 करोड़ रुपए प्रतिमाह खर्च करती है। जबकि एरक्राफ्ट की लीज और रेंट पर हर माह करीब 226 करोड़ रु. का खर्च आता है।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company