Responsive Ad Slot

देश

national

अरूण यादव की सहादत ने अमेठी का गौरव बढाया

Sunday, May 24, 2020

/ by Editor
हरिकेश यादव-संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)

अमेठी। 

फौजी की शहादत के बाद सत्रह साल में सेना का जवान देश की सेवा में तिरंगे में लिपट गया और मातृभूमि का सिर ऊंचा करने के लिए सेना के जवान अरूण कुमार यादव शहीद का शव गांव जोलहावापार (कडेरगांव) भेटुआ रविवार को देर शाम गमगीन महौल के बीच पहुंचा। जहाँ एक  ओर माता दशाना देबी के ऊपर 17 वर्ष के बाद  पति सत्य देव यादव की सेना में शहीद होने के बाद पुत्र के शहीद होने के बाद दु:खो का पहाड़ टूट पड़ा है। 

चीख पुकार के बीच देश के गौरव की रक्षा में बेटे के शहीद होने का तमगा मिला हो। बेटे की शादी ना होने का मां को गम जरूर रहा ।वहीं भाई अशोक कुमार यादव भी शादी के लिए अरूण कुमार यादव के ऊपर दबाव वनाया तो अरूण कुमार यादव ने कहा कि शादी 2021 में करेंगे। इस पर सब राजी हो गए। सेना में भी नासिक के लिए तबादला कर दिया गया। दस दिन नासिक में रहे भी लेकिन लाक डाउन के चलते नागालैंड में रह गए। वहीं से सहादत का इतिहास देश की रक्षा के लिए लिख दिया और कडेरगांव में शहीद होने पर लोगों का तांता लगा रहा। 

वर्ष 2013 में अरूण कुमार यादव शहीद पिता की जगह सेना में देश सेवा के लिए ब्रत लिया। सेना की सेवा में अपनी राष्ट्र भक्ति की इबादत लिख कर अमेठी के लोगों को एक बार चौंका दिया है। सेना के जवान के शहीद होने पर शोक संदेश कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भेजा है। दु:ख की घड़ी में संबल प्रदान किया। और शहीद के आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है। इस मौके पर लोगों का कारवां उमड़ पड़ा। हर कोई शहीद को पुष्प अर्पित कर श्रध्दांजलि अर्पित कर ईश्वर से पदम पद आत्मा को पाने के लिए कामना करते रहे। शन्ति का संदेश शहीद ने गांव व इलाके वालो को दिया।                             

अमेठी शहर से शहीद का शव गांव जोलहावापार की ओर चला। इसके बाद काफिला लोगों का गांव की ओर कूच किया। गांव पहुँचकर उप जिलाधिकारी अमेठी योगेन्द्र सिंह, पुलिस उपाधीक्षक पीयूष कांत राय अमेठी, प्रभारी निरीक्षक थाना कोतवाली अमेठी श्याम सुंदर, आरक्षी के साथ शव को पुष्प अर्पित कर श्रध्दांजलि दी। फिर सेना के  डोगरा रेजिमेंट के जवानों ने राजकीय सम्मान के साथ अंतिम सलामी तोपों से दी। गौरीगंज बिधायक राकेश सिंह ने शव को कंधा दिया। उसके बाद देर शाम को शहीद के शव को भाई अशोक कुमार यादव ने मुखाग्नि दी। इस मौके पर प्रशासन के अधिकारियों कर्मचारियों के अलावा भारी संख्या में लोग  का जमावड़ा लगा रहा।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company