Responsive Ad Slot

देश

national

ट्रंप का दावा- चीन की लैब से ही आया कोरोना वायरस

Friday, May 1, 2020

/ by Editor
वॉशिंगटन


अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को एक बार फिर कहा कि दुनिया भर में दहशत का कारण बना कोरोना वायरस चीन की लैब में ही बनाया गया था। ट्रंप ने कहा कि उन्हें इसका पूरा भरोसा है और इसके सबूत हैं कि कोरोना वायरस को वुहान की जैविक प्रयोगशाला में डिवलप किया गया था, हालांकि उन्होंने इसके सबूतों को लेकर कोई भी जानकारी शेयर करने से इनकार कर दिया।


वाइट हाउस के एक कार्यक्रम में ट्रंप ने कोरोना वायरस के संक्रमण के मुद्दे पर बात की। इस दौरान उनसे पूछा गया कि क्या उनके पास कोई ऐसा सबूत है जो यह साबित कर सके कि कोरोना वुहान की वायरोलॉलजी लैब में बनाया गया था? ट्रंप ने कहा कि हां मेरे पास इसके सबूत हैं, लेकिन मैं इसके बारे में आपको बता नहीं सकता और मुझे इसकी इजाजत भी नहीं है।

आमने-सामने अमेरिका और चीन


बता दें कि दुनिया में कोरोना से सर्वाधित प्रभावित अमेरिका ने पहले भी चीन पर गंभीर आरोप लगाते हुए उस थ्योरी को गलत बताया था कि कोरोना का वायरस चीन के वाइल्डलाइफ मार्केट से निकला है। अमेरिका ने चीन पर आरोप लगाए थे कि कोरोना के वायरस को वुहान की लैब में डिवलप किया गया। वहीं चीन की थ्योरी थी कि यूएस मिलिट्री ने चीन तक इस वायरस को पहुंचाया था। ट्रंप ने चीन पर यह आरोप भी लगाए कि उसने दुनिया को कोरोना वायरस के बारे में वक्त पर नहीं बताया और वायरस को फैलने दिया।

'जल्द ही सभी को पता चलेगा'


ट्रंप ने कहा कि हम खुद इसका पता लगाने में जुटे हैं और आप सभी लोगों को भी जल्द ही इस बात की सच्चाई का पता लग जाएगा। लेकिन दुनिया में जो भी हुआ वह बेहद मार्मिक है। हम इस बात का पता लगाने में जुटे हैं कि उन्होंने जो भी किया क्या वह गलती थी या कुछ ऐसा था जिसे गलती बताया गया या कि सबकुछ किसी बड़े उद्देश्य से हुआ। अमेरिका में इस साल राष्ट्रपति चुनाव में दोबारा उतरने जा रहे डोनाल्ड ट्र्ंप लंबे वक्त से कोरोना को चाइनीज वायरस बताते आए हैं। इसके अलावा चुनावी साल में आए इस वायरस को लेकर ट्रंप ने पूर्व में चीन पर अमेरिका में अस्थिरता फैलाने की साजिश करने का आरोप भी लगाया था।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company