देश

national

भारतीय-अमेरिकी बच्ची श्रव्या अन्नापारेड्डी को डोनाल्‍ड ट्रम्प ने किया सम्मानित

वॉशिंगटन

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोविड-19 से निपटने के लिए अग्रिम मोर्चे पर तैनात नर्सों और दमकल विभाग के कर्मियों को कुकीज और कार्ड भेजने वाली 10 साल की श्रव्या अन्नापारेड्डी को सम्मानित किया है। श्रव्या ‘गर्ल स्काउट ट्रूप’ की सदस्य हैं और मैरीलैंड के हनोवर हिल्स एलीमेंट्री स्कूल की चौथी कक्षा की छात्रा हैं।

राष्ट्रपति ट्रंप और प्रथम महिला मेलानिया ट्रम्प ने शुक्रवार को कोरोना वायरस संकट से निपटने के लिए अग्रिम मोर्चे पर तैनात कर्मियों की मदद कर रहे अमेरिकी नायकों को सम्मानित किया, जिसमें यह बच्ची भी शामिल है। ‘वाशिंगटन टाइम्स’ ने एक खबर में राष्ट्रपति के हवाले से कहा कि आज हम जिन पुरुषों और महिलाओं को सम्मानित कर रहें है, वे हमें याद दिलाते हैं कि कठिन समय में भी जो स्नेह हमें बांधता है वह हमें नई ऊंचाइयों तक ले जा सकता है।

कोरोना वायरस से विश्वभर में 40.7 लाख लोग संक्रमित
श्रव्या ‘गर्ल स्काउट’ की उन तीन बच्चियों में शामिल हैं, जिन्हें ट्रम्प ने सम्मानित किया। उसके माता-पिता आंध्र प्रदेश के हैं। खबर के अनुसार ‘गर्ल स्काउट’ की इन लड़कियों ने स्थानीय डॉक्टरों, नर्सों और दमकल कर्मियों को कुकीज के 100 डब्बे भेजे थे। इन्होंने उन्हें हाथ से बनाकर 200 कार्ड भी भेजे थे। चीन के वुहान से पिछले साल दिसंबर में फैलना शुरू हुए कोरोना वायरस से विश्वभर में 40.7 लाख लोग संक्रमित हैं।

कोरोना महमाारी से 3,15,185 लोग मारे गए हैं। अमेरिका इस महामारी से सबसे ज्‍यादा प्रभावित है और यहां पर कोरोना वायरस से 89,562 लोगों की जान गई है और 14 लाख से अधिक लोग इससे संक्रमित हैं। अमेरिकी राष्‍टप्रति ने ऐलान किया है कि चाहे कोरोना वायरस की वैक्‍सीन बने या न बने लेकिन अमेरिका में अब उद्योग धंधों को खोला जाएगा।
Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group