Responsive Ad Slot

देश

national

कराची एयरपोर्ट पर लैंडिंग से महज एक मिनट पहले प्लेन क्रैश ,98 लोग सवार थे

Friday, May 22, 2020

/ by Editor
कराची
पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस का एक पैसेंजर प्लेन शुक्रवार को कराची के रिहाइशी इलाके में क्रैश हो गया। यह प्लेन लाहौर से कराची आ रहा था। एयरपोर्ट से एक किलोमीटर की दूरी पर और लैंडिंग से करीब एक मिनट पहले प्लेन का इंजन फेल हो गया। उसमें आग लग गई और वह जिन्ना इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंचने से पहले ही क्रैश हो गया। प्लेन में 91 यात्री और 7 क्रू मेंबर में सवार थे। इनमें 51 पुरुष, 31 महिलाएं और 9 बच्चे शामिल थे।
                            
जिओ न्यूज के मुताबिक, अब तक 13 शव निकाले गए हैं। इनमें एक 5 साल का एक बच्चा और एक सीनियर जर्नलिस्ट अंसारी नकवी भी शामिल हैं। बैंक ऑफ पंजाब के प्रेसीडेंट जफर मसूद भी विमान में सवार थे, हालांकि वे सुरक्षित हैं। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने हादसे पर दुख जताया और कहा कि अभी हमारी प्राथमिकता राहत और बचाव कार्य हैं।
यह प्लेन कराची में मॉडल कॉलोनी के जिन्ना गार्डन इलाके में गिरा। वहां कई घरों में आग लग गई। इस इलाके को मलीर भी कहा जाता है। पाकिस्तान की सिविल एविएशन अथॉरिटी के मुताबिक, पायलट ने एयर ट्रैफिक कंट्रोलर को इंजन फेल हो जाने के बारे में बताया, लेकिन लैंडिंग से ठीक एक मिनट पहले संपर्क टूट गया।
पायलट ने प्लेन को रिहाइशी इलाके से दूर ले जाने की कोशिश की
पायलट का नाम सज्जाद गुल है। चश्मदीदों का कहना है कि पायलट ने प्लेन को रिहाइशी इलाके से दूर ले जाने की कोशिश की। इसी वजह से कम घरों को नुकसान पहुंचा। प्लेन में एक को-पायलट और तीन एयर होस्टेस भी थीं। पीआईए के प्रवक्ता ने जियो न्यूज से कहा- यह प्लेन ए-320 था और 15 साल पुराना था। 
पाकिस्तान की एयरपोर्ट अथॉरिटी पर सवाल
जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, जिन्ना इंटरनेशनल एयरपोर्ट के काफी पास तक दो से तीन मंजिला मकान बने हुए हैं। जबकि एयरपोर्ट के इतने नजदीक घर बनाने की इजाजत नहीं होनी थी। अगर एयरपोर्ट के पास रिहाइशी इलाके की इजाजत नहीं होती तो शुक्रवार को हुए इस हादसे की वजह से घरों में आग नहीं लगती। 

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company