Responsive Ad Slot

देश

national

लंदन प्रवास के दौरान- डॉ निरुपमा वर्मा

Monday, June 15, 2020

/ by Editor
डॉ निरुपमा वर्मा 
एटा -उत्तर प्रदेश

लंदन प्रवास के दौरान  जब वहां का हाइड पार्क देखने गई। तो मेरी प्रबल इच्छा थी कि उसी पार्क में ब्रिटेन की राजकुमारी डायना की स्मृति में बनाया गया ' प्रिंसेस ऑफ वेल्स मेमोरियल फाउन्टेन ' को देखने की । क्योंकि राजकुमारी डायना की मृत्यु सिर्फ शाही परिवार के किसी सदस्य की मृत्यु नहीं बल्कि एक व्यक्तित्व की मृत्यु थी। और राजकुमारी डायना के व्यक्तित्व में कई 'शेड ' सम्मिलित थे ।आज की सदी नारियों की सदी है। परिवार के भीतर और बाहर समाज में अपने अधिकारों की चेतना और मांग ,अपने अस्तित्व को पहचान दिलवाने की छटपटाहट , दुनिया के हर देश में अपने अपने सामाजिक परिवेश में सीमाओं को लांघने का सिलसिला जारी है। 

कुछ ऐसा ही डायना के साथ भी हुआ जहां यह छटपटाहट सामूहिक रूप में राजनीतिक या सामाजिक मंच तलाश कर लेती है तो संघर्ष आंदोलन अभियान जैसे शब्द अपने अर्थों में कुलबुलाने लगते हैं। इस छटपटाहट से डायना भी गुजरी कहीं घुटने टिकनेलगे तो कहीं संकटों से उबरी किन्तु एक बात स्पष्ट है कि बकिंघम पैलेस के दमघोंटू माहौल , पति की उपेक्षा , आलोचनात्मक दृष्टियों के बीच में भी नॉर्थफोर्क से आई साम्राज्ञी बनने की चाह रखने वाली ,दिखने में मासूम -शर्मीली 'सिंडरेला ' सरीखा व्यक्तित्व जड़ नहीं हुआ बल्कि विपरीत परिस्थितियों में अपने लिए अनुकूल रास्ते तलाश करता हुआ एक प्रक्रिया में गुजरा ।तब इस व्यक्तित्व की छवि से अलग ,सबसे निराली दिखी । शायद इसलिए ब्रिटेन और ब्रिटेन से बाहर भी महिलाएं / युवतियां अपने अस्तित्व में उस छवि को ढूंढती हैं तो कभी उस व्यक्तित्व में अपनी झलक देखती हैं । 

डायना, प्रिंसेस ऑफ वेल्स मेमोरियल फाउंटेन देखने मे बिल्कुल साधारण सा है । ये भ्रम भी हो जाता है कि शाही परिवार की राजकुमारी की यादगार में इतना साधारण फाउन्टेन बना दिया गया । किन्तु इस फाउन्टेन की रचनात्मकता अद्भुत है । फाउंटेन के मूर्तिकला रूप को लंदन के हाइड पार्क में भूमि के प्राकृतिक ढलान में एकीकृत किया गया है और यह ऊर्जा को विकीर्ण करने के साथ-साथ लोगों को अंदर की ओर खींचने के लिए बनाया गया है। आगंतुकों के लिए पानी के साथ संलग्न करने के लिए एक लोकप्रिय स्थान, फव्वारे में विस्तृत खांचे और चैनल हैं जो पानी को चेतन करने के लिए वायु जेट के साथ गठबंधन करते हैं और एक अलग प्रभाव पैदा करते हैं जैसे कि 'चादर कैस्केड', 'स्वोश', 'स्टीवन कैस्केड', ' रॉक एंड रोल ’और तल पर भी । 

जल स्रोत उच्चतम बिंदु पर स्थित है जहां पानी के बुलबुले फव्वारे के आधार से ऊपर आते हैं। लगभग 100 लीटर पानी प्रति सेकंड सर्पीन के बगल में रिफर्बिश्ड प्लांट रूम के सामने एक स्टोरेज टैंक से पहाड़ी पर डाला जाता है। शीर्ष पर विभाजित, फव्वारा स्थलाकृति का उपयोग दो धाराओं में पानी को नीचे की ओर मोड़ने के लिए एक स्थिर, चिंतनशील बेसिन बनाने के लिए करता है। ग्राउंड-ब्रेकिंग डिजिटल तकनीक का उपयोग कर डिज़ाइन और कट किया गया, फव्वारा कॉर्निश ग्रेनाइट के 545 टुकड़ों से बना है। डिजाइन एक हल्के रंग की अंगूठी के रूप में दिखाई देता है जो आसपास के घास के मैदान क्षेत्र और रोपण के साथ विपरीत होता है।

गुस्ताफसन पोर्टर एवं बोमन ने परियोजना के डिजाइन का नेतृत्व किया, और अनुभवी टीम के साथ सहयोग किया। इसमें शामिल थे: बैरोन गॉल्ड / टेक्सक्सस (भूतल बनावट), बकनॉल ऑस्टिन (प्रोजेक्ट मैनेजमेंट), जेफ्री ओसबोर्न लिमिटेड, ओस्मिस, विलबी लैंडस्केप्स, कैथेड्रल वर्क्स ऑर्गनाइजेशन, एस मैककोनेल एंड संस, सरफेस डेवलपमेंट इंजीनियरिंग लिमिटेड (सतह डिजाइन), मिट्टी और भूमि कंसल्टेंट्स , प्रोफेसर डेविड हार्डविक, और शेलघ वेकली (सहयोगी कलाकार के रूप में)। यहां खूबसूरत पुष्प बाटिका भी है । क्यारियों में खिलते गुलाब का साइज देख कर मैं हैरान थी । इतने बड़े , तो हमारे देश मे तालाब में कमल के फूल होते हैं । मंत्रमुग्ध सी वहां खड़ी रह गई । पति और बेटा कब आगे निकल गए मुझे पता ही नहीं चला । वो तो बेटे ने आ कर उलाहना देते हुए कहा - माँ ! ऐसे हर जगह अटक कर खड़ी रहोगी तो गुम हो जाओगी । वैसे भी ये पौधे इंडिया ले जाने को नही मिलेंगे ।समझी । " 

फाउन्टेन देखने के बाद हम डायना के पैलेस देखने पहुंचे । इस महल का नाम 'केनसिंग्टन पैलेस ' है ,और यह भी ऐतिहासिक हाइड पार्क के करीब मध्य लंदन में स्थित है। यह कभी डायना का घर हुआ करता था और अब यह उनके बेटे राजकुमार विलियम का घर है, जिसमें वह अपनी पत्नी कैथरीन के साथ रहते हैं।
डायना की असमय मृत्यु के बाद यह महल दुनियाभर की मीडिया में खबरों में था। राजकुमारी डायना की मृत्यु 1997 में पेरिस के पास एक कार दुर्घटना में हुई थी। डायना की मृत्यु के बाद हजारों लोग अपनी प्यारी राजकुमारी को श्रृद्धासुमन अर्पित करने उनके महल के पास पहुंचे थे।

यह महल कभी महारानी विक्टोरिया के बचपन का निवास हुआ करता था। यह 19वीं शताब्दी की बात है और बाद में यह विक्टोरिया की बेटी और मौजूदा महारानी के बेटे और राजघराने से सबसे बड़े वारिस राजकुमार चार्ल्स का घर बना। डायना चार्ल्स की ही पत्नी थीं। इस महल में राजकुमारी डायना के कई चित्र स्मृति के रूप में लगे हैं । उन्ही तस्वीरों में से कुछ तस्वीर  मुझे अपनी ओर खींच ले गई । जहाँ मैंने डायना के व्यक्तित्व का एक और 'शेड ' देखा । डायना अपने पहनने के लिए वस्त्रों की डिज़ाइन स्वयं तैयार करती थीं । 

उनके द्वारा अपनी पोशाक के लिए तैयार किये गए कई स्केच मैंने देखे । ये उनकी लगन ही थी कि वो , इंग्लैंड ,यूरोप के प्रख्यात डिजाइनरों की चहेती बन गई थीं। उनके ड्रेस ,हेयर स्टाइल , हैट , पर्स यहां तक की सैंडल आधुनिक फैशन के प्रतीक बन गए। आज भी सबसे ज्यादा ग्लैमरस व्यक्ति की श्रृंखला में डायना का ही नाम है। 
एक परित्यक्ता के रूप में वह कभी ग्लैमर जगत पर हावी हुई , कभी बीमार जिंदगी से जूझते हुए रोगियों के निराश दिलों में । बाहर की रोशनी में अंदर का अंधेरा कम होता गया। यह सही है कि डायना के सारे चैरिटी कार्यक्रमों का आधार शाही स्तर था ,पर उस आधार पर बना मजबूत ढांचा  उसकी आत्मीयता , मानवीयता  के प्रति सहानुभूति के रूप में व्यक्तिगत उपलब्धि ही थी । 

 बुरे से बुरे हालात में भी जीवन के प्रति राजकुमारी ने नकारात्मक रवैया नहीं अपनाया। यही उसका बल था और आखिरकार जब महारानी के मुकुट का मोहभंग हुआ तो उस अवस्था की सारी सीमाएं लांघ चुकी थी। लोगों के दिलों में जगह बना कर जहां खड़ी थी, वहां शाही ऐश्वर्य , मुकुट की लालसा बेमानी सी हो गई थी । राजकुमारी डायना समाजसेवा के अपने कामों के लिए जनता में लोकप्रिय रहीं. एड्स बीमारी से पीड़ित लोगों की दशा को सार्वजनिक चर्चा का विषय बनाने में उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. इस विषय पर उनके भाषण स्पष्ट थे और उन्होंने इससे जुड़े कई पूर्वाग्रहों को भी दूर किया. उन्होंने एड्स पीड़ितों से सार्वजनिक रूप से हाथ मिलाया ताकि ये संदेश दे सकें कि एड्स छूने से नहीं फैलता। 

एक बार उन्होंने अपने बच्चों से कहा था- "दुनिया को महल से नहीं सड़क से भी देखो!' 
   ---पैलेस से बाहर आते हुए मुझे ये सोच कर पीड़ा हुई कि दुनिया के हर देश के इतिहास में हर खूबसूरत रानी/राजकुमारी को  रहस्य मयी  मृत्यु ही क्यों मिली ???


No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company