Responsive Ad Slot

देश

national

सपाईयों ने चीन का पुतला फूंका

Sunday, June 21, 2020

/ by Editor
हरिकेश यादव-संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)
अमेठी। 

वास्तविक नियंत्रण रेखा को लेकर  पूरे देशवासियों में  रोष व्याप्त है । उन्होंने आशा व्यक्त की है कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  चीन को उसी की भाषा में  जवाब देंगे । इसी आक्रोश को देखते ही कल शाम सपा नेताओं ने चीन का पुतला फूंका।
                      (फोटो-चीन का पुतला दहन करते सपा नेता सूबेदार यादव व उनके साथी)
सपा नेता सूबेदार यादव की अगुवाई में कल शाम 5 बजे अम्बेकर चौराहा अमेठी में चीन का पुतला दहन कर जताया विरोध और कहा चीन के प्रति देश में आक्रोश व्याप्त है। चीन की नीति विस्तार वादी है ।वह हमेशा  से येन-केन प्रकारेण देश की जमीन को हड़पना चाहता है। चीन ने भारत की लद्दाख का करीब 38000 वर्ग किलोमीटर भूभाग पर कब्जा कर लिया है । अरुणाचल प्रदेश के 90,000 वर्ग किलोमीटर पर अपनी दावेदारी करता है । इसके अलावा उसने हिंद महासागर में हमारी हजारों किलोमीटर जल भूमि पर भी कब्जा कर लिया है।  इसी विस्तारवादी नीति के तहत चीन पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी पर भी कब्जा करना चाहता है।  वह गलवान को अपने देश का हिस्सा बताता है ।

चीन के साथ बातचीत में हुए समझौते के अनुसार  चीनी सेना को भारतीय सीमा से पीछे हटना था ,लेकिन वह  हटे नहीं। इसी को  देखने के लिए जब भारतीय सेना की टुकड़ी  अपनी सीमा का निरीक्षण करने गई तो वहां पहले से तैयार बैठे चीन के सैनिकों ने भारतीय सैनिकों को चारों ओर से घेर लिया और कटीले लाठी-डंडों से प्रहार करना शुरू कर दिया। भारतीय सैनिकों की संख्या लगभग 250 थी और चीनी सैनिकों की संख्या 1,000 से अधिक थी ।शून्य से कम तापमान के बावजूद हमारे सैनिकों ने बड़ी बहादुरी के साथ उनका मुकाबला किया। जिससे हमारे देश के 20 सैनिक शहीद हुए और करीब 10 सैनिकों को बंदी बनाकर ले जाने में कामयाब रहे। 

देश की विदेश नीति की विफलता ही है, जो चीन हमें आंखें दिखा रहा है। हमारे सैनिकों पर कायराना  पूर्ण हमले कर रहा है ।बहुत अफसोस होता है, जब देश के हुक्मरान मोदी जी यह कहते हुए नहीं थकते कि मैंने विदेशों में अपना लोहा मनवाया, अपना डंका बजाया।देश के हुक्ममरानों  के गाल पर एक जोरदार तमाचा है। उन्हें शर्म आनी चाहिए और अगर उनसे देश नहीं संभल रहा है तो उन्हें कुर्सी छोड़ देनी चाहिए। एक बार  मोदी सरकार को विदेशनीति  की समीक्षा करनी चाहिए । पुतला दहन के अवसर पर युवा साथी भोलानाथ यादव,अरविंद  यादव( बब्लू) बृजेश यादव,आजाद,गौरव सिंह,रोहित कुमार,सत्यम शर्मा व राहुल यादवसहित अन्य साथी उपस्थिति थे।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company