Responsive Ad Slot

देश

national

कोविड-19 के मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ रहे प्रभावों पर यूपीएमआरसी ने आयोजित कराया वेबिनार

Friday, June 19, 2020

/ by Editor
लखनऊ।

यूपीएमआरसी ने कोविड-19 के विषम दौर में अपने कर्मचारियों और अधिकारियों के मानसिक स्वास्थ्य का ख्याल रखते हुए होप इनिशिएटिव फाउंडेशन के साथ मिलकर ‘कोविड-19 और मानसिक स्वास्थ्यः भावनात्मक संतुलन विकसित करने की ज़रूरत‘ विषय पर एक वेबिनार का आयोजन किया। कार्यक्रम के दौरान यूपीएमआरसी के कर्मचारियों ने बड़ी संख्या में हिस्सा लिया और विशेषज्ञों से अपने सवाल भी पूछे। 
उत्तर प्रदेश मेट्रो के प्रबंध निदेशक  कुमार केशव ने इस अवसर पर अपने संबोधन में सभी को अपने मानसिक स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की नसीहत दी और कहा कि, "मुश्किल परिस्थितियों से डट के सामना करने के लिए मानसिक तौर पर मजबूत होना बेहद आवश्यक है। हम अक्सर शारीरिक स्वास्थ्य को लेकर तो चिंतित होते हैं पर अवसाद व तनाव के गंभीर लक्षणों को भी अनदेखा करते हैं। इसके साथ जुड़ा हुआ सामाजिक धब्बा हमें समय पर विशेषज्ञों से सलाह लेने से रोकता है जो कि गलत है और जिसके लिए अभी समाज में और जागरूकता फैलाने की ज़रूरत है।"

होप इनिशिएटिव स्वास्थ्य के क्षेत्र में कार्य करने वाली एक महत्वपूर्ण संस्था है। कोविड-19 के संक्रमण से जहां पूरी दुनिया त्रस्त है वहीं इससे तनाव, भय, चिंता, एकाकीपन जैसी मानसिक समस्याओं को भी बढ़ावा मिला है। शुक्रवार दोपहर 3ः00 बजे से आयोजित सत्र में इन्हीं समस्याओं के सामाजिक, मानसिक और भावनात्मक पहलुओं पर एस.जी.पी.जी.आई. की मानसिक रोग विशेषज्ञ पियाली भट्टाचार्य ने अपना व्याख्यान दिया। साथ ही उन्होंने कोविड-19 से निपटने के टिप्स भी दिए। 

उन्होंने बताया कि, दोस्तों और परिवारजनों के सहयोग से तथा अपनी जीवनशैली और कार्यशैली में परिवर्तन कर इस संकट पर निश्चित रूप से विजय पायी जा सकती है। हमें नित्य व्यायाम करना चाहिए जिससे सकारात्मकता बनाए रखने में मदद मिलती है। उन्होंने फेक न्यूज से बचने की हिदायत देते हुए चेताया कि इसका हमारे मानसिक स्वास्थ्य पर गंभीर प्रभाव पड़ता है। विशेषकर ऐसी ख़बरें बच्चों के मानस पटल पर गहरा असर डालती हैं। कोविड-19 बुजुर्गों के लिए विशेष रूप से ख़तरनाक है ऐसे में जरूरी है कि हम अपने बच्चों और बुजुर्गों के साथ अधिक से अधिक समय बिताएं। सकारात्मक रहें और समय पर विशेषज्ञों की सलाह अवश्य लें।

वेबिनार में मौजूद प्रतिभगियों ने विशेषज्ञों के सामने अपने प्रश्न भी रखे जिनका डाॅक्टर पियाली ने उपयुक्त जवाब दिया। इस तरह के आयोजन से कोविड-19 के साथ-साथ मानसिक समस्याओं के बारे में भी लोगों की जानकारी में वृद्धि होती है। डायरेक्टर (परिचालन) श्री सुशील कुमार ने इस महत्वपूर्ण विषय पर उपयोगी चर्चा के लिए धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कार्यक्रम का समापन किया।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company