Responsive Ad Slot

देश

national

पुत्र को नौकरी दिलाने के लिए जेठ ने की थी हत्या

Thursday, June 11, 2020

/ by Editor

संजय सक्सेना 
बिजनौर। 

दो दिन पूर्व नगर में हुई विधवा की हत्या का खुलासा पुलिस ने कर दिया है। इस मामले में मृतका के जेठ को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी मृतक आश्रित कोटे की नौकरी अपने पुत्र को दिलाना चाहता था। जानकारी के अनुसार 09 जून 2020 को मोहल्ला काजीपाड़ा में सोमी देवी की हत्या धारदार हथियार से कर दी गई थी। मृतका की बहन गीता देवी ने बताया कि उसकी बहन सोमी देवी की शादी 13 वर्ष पूर्व मोहल्ला काजीपाड़ा निवासी प्रमोद पुत्र श्याम सिंह के साथ हुई थी। प्रमोद पीसीएफ विभाग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी था। लगभग पांच वर्ष पूर्व एक सड़क दुर्घटना में प्रमोद की मृत्यु हो गई थी। 

जेठ पवन अपने परिवार के साथ सोनी के पड़ोस में ही रहता था। पवन अपने पुत्र सुमित को प्रमोद की मौत के बाद सरकारी नौकरी दिलाना चाहता था। सोमी देवी इसके लिए तैयार नहीं थी और विभाग में खुद ही नौकरी हासिल करना चाहती थी। इस कारण पवन और उसका परिवार सोनी पर लगातार सुमित की नौकरी के लिए दबाव बनाता था। सोमी  इसके लिए बिल्कुल तैयार नहीं थी। इसी कारण पवन ने सोमी  देवी की हत्या कर दी। पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए मृतका की बहन गीता देवी ने बताया कि मंगलवार दोपहर सोमी घर में अकेली थी। उसका ढाई साल का बेटा बाहर खेलने गया था। दोपहर के समय सास मुन्नी देवी घर पहुंची तो सोमी का रक्तरंजित शव कुर्सी पर पड़ा हुआ था। उसके शरीर पर धारदार हथियार का गहरा निशान था। सिर पूरी तरह क्षत-विक्षप्त था। 

मामले की विवेचना में लगी थाना कोतवाली शहर पुलिस ने अभियुक्त पवन को बैराज रोड से गिरफ्तार कर लिया। पुछताछ में पवन ने बताया कि उनका झगडा मकान के बंटवारे को लेकर भी होता था। सोमी मकान का आधा हिस्सा बेचना चाहती थी, लेकिन वह  सोनी को एक तिहाई हिस्से को ही बेचने के लिये कहते थे, ताकि कुछ हिस्सा प्रमोद की मां के पास रह जाये।  सोमी मान नहीं रही थी, इसी कारण उसे मौत के घाट उतार दिया। 

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company