Responsive Ad Slot

देश

national

कोविड-19 को लेकर नया खुलासा ,मास्‍क पहनने के बाद भी शरीर में घुस रहा कोरोना वायरस

Wednesday, June 17, 2020

/ by Editor
लंदन

कोरोना वायरस के कहर के बीच इस महामारी से बचाव के लिए पूरी दुनिया में मास्‍क और फेसशील्‍ड पहनने पर जोर दिया जा रहा है। इस बीच ताजा शोध में चेतावनी दी गई है कि मास्‍क पहनने और 3 फुट की दूरी रहने पर के बाद भी कोरोना वायरस शरीर में घुस जा रहा है। शोधकर्ताओं ने कहा कि अगर कोई कोरोना संक्रमित व्‍यक्ति लगातार खांस रहा है तो मास्‍क पहनने का कोई मतलब नहीं रह जाता है।  

साइप्रस के यूनिवर्सिटी ऑफ निकोसिया के वैज्ञानिकों ने बताया कि यह खुलासा चौकाने वाला है। उन्‍होंने मास्‍क पहनने के बाद भी 6 फुट की दूरी बनाए रखने की अपील की है। वैज्ञानिकों का यह अध्‍ययन ऐसे समय पर आया है जब दुनियाभर में उद्योगों की तरफ से सरकार पर दबाव डाला जा रहा है कि वे सोशल डिस्‍टेंसिंग के नियमों में ढील दें।

इस शोध के सह लेखक दिमित्रिस डिकाकिस ने कहा कि केवल मास्‍क कोरोना वायरस से संक्रमित होने से नहीं रोक सकता है। उन्‍होंने कहा कि कुछ ड्रापलेट मास्‍क शील्‍ड के अंदर घुस जाने में सक्षम हो जाते हैं। यही नहीं पीड़‍ित मरीज के ड्रापलेट 4 फुट तक जा सकते हैं। हालांकि इनमें से ज्‍यादातर एक मीटर यानि 3 फुट तक ही जाते हैं।

बता दें कि फेस मास्‍क के बारे में माना जाता है कि यह महामारी के प्रसार को धीमा कर देता है लेकिन इस बारे में बहुत कम जानकारी है कि यह किस तरह से काम करता है और किस तरह से नहीं करता है। शोध में पता चला है कि मास्‍क हवा में पाए जाने वाले कोरोना वायरस के ड्रापलेट के संक्रमण को कम कर देता है लेकिन पूरी तरह से उसका खात्‍मा नहीं करता है। हालांकि बिना मास्‍क के ड्रापलेट करीब 6 फुट की दूरी तक चला जाता है। इसलिए मास्‍क कोरोना के खतरे को कम करने में मददगार है।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company