Responsive Ad Slot

देश

national

जियो प्लेटफॉर्म्स में 7.7 फीसदी हिस्सेदारी लेगी गूगल

Wednesday, July 15, 2020

/ by Editor
नई दिल्लीरिलायंस एटीएम की 43वीं बैठक जारी है। मुकेश अंबानी ने इस बैठक में कहा कि गूगल जियो प्लैटफॉर्म्स में 7.7 फीसदी हिस्सेदारी के लिए 33737 करोड़ रुपये निवेश करेगी। गूगल के निवेश के साथ ही रिलायंस में अब निवेश का आंकड़ा 1.52 लाख करोड़ पर पहुंच गया। इस तरह अब तक 14 कंपनियां जियो में निवेश कर चुकी हैं। जियो और गूगल मिलकर एंड्रॉयड बेस्ड स्मार्टफोन के लिए ऑपरेटिंग सिस्टम बनाएगी।
मुकेश अंबानी जियोमार्ट की मदद से ई-कॉमर्स दिग्गज फ्लिपकार्ट और ऐमजॉन को पानी पिलाने की तैयारी में हैं। इन कंपनियों को टक्कर देने के लिए जियोमार्ट वॉट्सऐप का इस्तेमाल करेगी। उनका मकसद वॉट्सऐप की मदद से किराना दुकानदारों और छोटे व्यापारियों को ई-कॉमर्स से जोड़ना है।

गूगल और जियो मिलकर क्या करेगी?
गूगल से साथ साझेदारी को लेकर मुकेश अंबानी ने कहा कि हम मिलकर एंड्रॉयड बेस्ड स्मार्टफोन के लिए ऑपरेटिं सिस्टम बनाएंगे। इस पार्टनरशिप से भारत 2G मुक्त होगा। अंबानी ने कहा कि हमारा मकसद सभी भारतीय के हाथों में स्मार्टफोन देना है। भारत में करीब 35 करोड़ 2जी फीचर फोन यूजर्स हैं। गूगल और जियो मिलकर इन लोगों के लिए सस्ता स्मार्टफोन बनाएगी। जियो का मकसद 30 करोड़ लोगों को 2जी से 4जी में अपग्रेड करना है। उन्होंने कहा कि JioPHONE अभी भी दुनिया का सबसे अफॉर्डेबल 4जी स्मार्टफोन है।

अंबानी ने कोरोना को इतिहास का सबसे बड़ा संकट बताते हुए उम्मीद जताई कि भारत और दुनिया जल्दी ही इससे उबरने में कामयाब रहेगी। उन्होंने कहा कि 50 लाख यूजरों ने जियोमीट को डाउनलोड किया है। इसे जियो की युवा टीम ने हाल में विकसित किया है। उन्होंने कहा कि जियो ने घरेलू तकनीक से 5जी सॉल्यूशन विकसित किया है और दूसरे देशों को इसका निर्यात किया जाएगा। अंबानी ने इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के विजन को समर्पित किया। उन्होंने कहा कि जियो फाइबर से 10 लाख से अधिक घर जुड़ गए हैं। उन्होंने कहा कि कंपनी के लिए पूंजी जुटाने का लक्ष्य पूरा हो गया है। कंपनी ने जियो,राइट्स इश्यू और बीपी से 212809 करोड़ रुपये कमाए।

बायजूस को टक्कर देगा इम्बाइबइस मौके पर कंपनी ने लर्निंग एप इम्बाइब लॉन्च करने की घोषणा की जो बायजूस को कड़ी टक्कर देगा। कोरोना के दौरान 200 से अधिक शहरों में जियोमार्ट लॉन्च किया गया। कंपनी ने कहा कि जियोमार्ट किराने का भरोसेमंद सॉल्यूशन बनकर उभरा है। कंपनी ने ऑडियो-वीडियो के लिए जियोग्लास लॉन्च करने की घोषणा की। छोटे दुकानदारों की मदद के लिए जियोमार्ट और whatsapp मिलकर करेंगे।

देश की सबसे मूल्यवान कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) की पहली वर्चुअल AGM शुरू हो गई है। कोरोना काल में अधिक से अधिक शेयरहोल्डर इस वर्चुअल AGM में हिस्सा ले सकें इसके लिए रिलायंस ने जोरदार तैयारियां की हैं। सोमवार को रिलायंस ने एक खास वर्चुअल प्लेटफॉर्म लॉन्च किया। इस प्लेटफॉर्म की मार्फत देश विदेश की 500 लोकेशन्स से करीब 1 लाख शेयरहोल्डर्स एक साथ AGM में भाग ले सकेंगे। आरआईएल की कंपनी जियो प्लेटफॉर्म्स में जिस तरह दुनिया की कई कंपनियों ने निवेश किया है उससे उस एजीएम को लेकर निवेशकों की दिलचस्पी बढ़ गई है।

इसके अलावा रिलायंस ने शेयरहोल्डर्स, निवेशकों, मीडिया और आम लोगों की सहायता के लिए एक चैट बॉट भी लॉन्च किया है। व्हाट्सएप नंबर +91 79771 11111 पर कॉल कर शेयरहोल्डर्स व अन्य सभी अपने सवालों का जवाब पा सकते हैं। यह हेल्पडेस्क 24X7 काम करेगा। चैट बॉट को कुछ इस तरह डिजाइन किया गया है कि यह एक साथ 50 हजार सवालों के जवाब दे सकें। वीडियो या टैक्स्ट किसी भी फॉरमेट में इस चैट बॉट से सवाल पूछे जा सकेंगे। इस चैट बॉट को जियो हेप्टिक ने बनाया है।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company