Responsive Ad Slot

देश

national

लकड़ी माफिया ने काट डाले फलदार और हरे वृक्ष

Saturday, July 25, 2020

/ by Dr Pradeep Dwivedi

लखनऊ
पर्यावरण का संतुलन बनाए रखने में वृक्ष अहम रोल अदा करते हैं वन संपदा को बचाने के लिए जहां शासन स्तर पर करोड़ों रुपये खर्च किए जा रहे हैं वहीं लखनऊ में लकड़ी माफिया इस मंशा पर पानी फेर रहे हैं। काकोरी क्षेत्र के अधिकांश गांवों में इन दिनों माफिया फलदार और हरे वृक्ष काटकर गिरा रहे हैं और वन विभाग मौन धारण किए हुए है अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

कोतवाली काकोरी क्षेत्र के स्थानीय गांव के अलावा खालिश पुर आदि स्थानों पर लकड़ी माफिया सक्रिय हैं। ग्रामीणों की मानें तो बीते दो दिन से खालिश पुर सहित अन्य कई गांव में पेड़ काटे जा रहे हैं। अब तक आम के लगभग चार से पांच हरे भरे पेड़ काटकर गिरा दिए गए। इसकी शिकायत गांव के लोगों ने वन विभाग से की। लेकिन, कोई कार्रवाई नहीं हुई। जबकि पर्यावरण को बचाने के लिए पौधारोपण अभियान बड़े पैमाने पर चलाया जा रहा है। हर साल पर्यावरण संरक्षण के लिए लोगों को जागरूक किया जाता है। इसके बावजूद वन विभाग के अधिकारी इस अभियान को ठेंगा दिखाने पर उतारू है। काकोरी क्षेत्र के स्थानीय ग्रामीणों ने का कहना है कि क्षेत्र में प्रतिदिन पेड़ों का कटान हो रहा है। लेकिन, वन विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत के चलते इन लकड़ी माफियाओ पर कार्रवाई नहीं की जाती।

सूत्रो की माने तो काकोरी क्षेत्र में लकड़ी माफिया पर रेंज दरोगा अमित सिंह का संरक्षण प्राप्त के चलते होती हैं सभी लकड़ी की कटाने जिसके चलते हरियाली को नष्ट किया जा रहा है।

इस संबंध में वन रेंजर एस के शर्मा का कहना है कि मामला संज्ञान में नहीं है। यदि पेड़ काटे जा रहे हैं तो यह अपराध है। इसकी जांच कराकर ऐसे माफियाओं के खिलाफ शख्त  कार्रवाई की जाएगी।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company