Responsive Ad Slot

देश

national

पीपरपुर के हल्का सिपाहियों से जनता त्रस्त

Thursday, July 16, 2020

/ by Editor
हरिकेश यादव-संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)
अमेठी।

मामला जनपद अमेठी के पांडे के पुरवा मजरे सोनारी का है। ग्राम सोनारी चकबंदी में है गाटा संख्या 4069 जोकि रामअवतार पुत्र राम लौट मौर्य का है और गाटा संख्या 4068 व 4094 अशोक पांडे आदि का है तीनो नंबरान सीमावर्ती होने के कारण गाटा संख्या 40 69 में  राम अवतार द्वारा दिनांक 26/02/ 2020 में एसओसी द्वारा मकान निर्माण की एक पक्षीय अनुमति प्राप्त की गई। परंतु बिना सीमांकन के उक्त काश्तकार मेड़कौला होने के कारण गाटा  संख्या 4069 का सहारा लेकर अशोक पांडे आदि की चक में निर्माण करना चाहा तो विपक्ष द्वारा निर्माण कार्य पर आपत्ति जताई गई ।लेकिन राम अवतार के पुत्र गणों द्वारा अमादा फौजदारी होकर दिनांक 6-3-2020 को मारपीट की गई। जिसके तहत 48/20 के तहत मुकदमा दर्ज हुआ और लाल जी का 151 में चालान भी हुआ और दिनांक 27/3/2020 को दोनों पक्षों के कुछ लोगों का और 151 हुआ फौजदारी उपरांत दिनांक 06/03/2020 को उक्त विवादित जमीन पर एस ओ सी द्वारा स्थगन आदेश भी जारी किया गया।
अशोक पांडे आदि का पक्ष 151 व स्थगन आदेश का निरंतर अनुपालन कर रहा है परंतु विपक्षी राम अवतार के पुत्र गणों द्वारा बीच में आदेश की उपेक्षा कर छप्पर आदि छाया गया तथा कुछ नेताओं द्वारा बार-बार फोन करा कर मानसिक रूप से दबाव बनाया जाता है ।उसी के स्थगन उपरांत बिना पैमाइश के थाना पीपरपुर में अनावश्यक शिकायत कराकर अशोक पांडे आदि का आर्थिक मानसिक शोषण कराया जा रहा है ।अभी हाल ही में थाना पीपरपुर में निर्माण न करने देने की शिकायत करने पर दिनांक 14/7/2020 को थाना पीपरपुर से आए दो आरक्षी रामवृक्ष यादव व रमेश, मौर्य पक्ष की तरफ से अनुचित दबाव में होने के कारण अशोक पांडे के पक्ष की एक न सुनते हुए  पुलिसिया धौंस जमाते हुए बदसलूकी की गई तथा शिक्षणरत बच्चों का नाम नोट कर संगीन धाराओं में फंसाने की धमकी देते हुए शिक्षक अशोक पांडे की तुलना हाल ही में एनकाउंटर हुए अपराधी विकास दुबे से की गई और शिक्षक के नाम पर कलंक बताया गया और दिनांक 15/07/2020 को थाना जाने पर प्रकरण को देख रहे एसआई श बीएल रावत के समक्ष एक पक्षीय  झूठी शिकायतें कर गुमराह किया जा रहा था तथा इन्हीं के समक्ष शिक्षक अशोक पांडे को पट्टे से ठीक करने की धमकी देते हुए अपनी बात ऊपर करने के लिए फरियादी का मुंह बंद कर दिया गया। 
परंतु प्रकरण को देख रहे एसआई को उक्त  दोनों आरक्षियों का कारनामा रास नहीं आ रहा था। पर स्टॉप होने के कारण करते ही क्या उक्त आरक्षियों द्वारा किए गए बदसलूकी व दुर्व्यवहार से क्षुब्ध होकर अशोक पांडे द्वारा दिनांक 14/07/2020 को उक्त प्रकरण की शिकायत जिले के उच्च अधिकारियों से की गयी।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company