देश

national

बे-मौसमी सब्जियों की खेती पर प्रवासी बेरोजगारों को दिया गया प्रशिक्षण

हरिकेश यादव-संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)
अमेठी।
कृषि विज्ञान केन्द्र, कठौरा, अमेठी पर गरीब कल्याण रोजगार अभियान के अन्तर्गत बेमौसमी सब्जियों की खेती से आय संवर्धन विषयक तीन दिवसीय प्रशिक्षण सम्पन्न हुआ। प्रशिक्षण के तीसरे दिन केंद्र के अध्यक्ष डॉ आर के आनन्द ने सब्जियों में पलवार प्रबंधन के बारे में बताया। प्रशिक्षण के इस सत्र के मुख्य  अतिथि कृषि विज्ञान केंद्र, आजमगढ़ के अध्यक्ष डॉ कृष्ण मोहन सिंह ने सभी प्रवासी श्रमिकों को बे मौसमी सब्जियो के खेती कर  आय  एवं रोजगार प्राप्त करने की तकनीकी सलाह दी। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि जनपद के जिला उद्यान अधिकारी डॉ बलदेव प्रसाद ने सब्जियों के खेती, केले की खेती एवं बागवानी से संबंधित विभाग के विभिन्न योजनाओं पर चर्चा किया और बताया कि यदि सब्जिओं के बेमौसमी खेती की जाए तो खेती से फायदाकई गुना बढ़ जाता है। 
                                               (फोटो-प्रशिक्षण देते कृषि वैज्ञानिक)
प्रशिक्षण के समापन सत्र के दूसरे विशिष्ट अतिथि जनपद अमेठी के जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी आर एस वर्मा ने आँकड़ो के आधार पर जनपद में सब्जिओं एवं उद्यान की स्थिति के बारे में बताया तथा किसानों को सलाह दिया कि किसान परंपरागत खेती में थोडा़ बदलाव लाकर कृषि विविधीकरण अपनाये जिससे उनको ज्यादा लाभ लाभ हो सके। केन्द्र की वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ रेनु सिंह ने सब्जिओं के प्रसंस्करण एवं संरक्षण की तकनीक बताई। केंद्र के वैज्ञानिक डॉ ओ पी सिंह एवं डॉ अनिल दोहरे ने भी सब्जिओं की खेती की उनन्त तकनीक पर चर्चा की। कृषि विभाग के बी टी एम देव मणि त्रिपाठी ने विदेशी सब्जिओं की खेती के बारे में विस्तार से बताया। कार्यक्रम के अंत मे सभी श्रमिको को प्रमाण पत्र वितरित किया।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group