Responsive Ad Slot

देश

national

विषकन्याओं से कैसे बचोगे ?- शैलेन्द्र श्रीवास्तव

Monday, August 17, 2020

/ by Dr Pradeep Dwivedi

शैलेन्द्र श्रीवास्तव ( प्रसिद्ध अभिनेता)

विषकन्याओं से...

कैसे बचोगे?

छोटे गावों-नगरों से,

सपने बड़े-बड़े लेके,

मायानगरी में आगमन सरल है।

किन्तु सफलता विरल है।

कठिन है टिक पाना...

सुरक्षित रह पाना...

कैसे बचोगे?

विषकन्याओं की कथायें...

मात्र दन्तकथायें नहीं हैं !

सत्य है, अस्तित्व रहा है उनका...

वो आज भी हैं, प्रत्यक्ष हैं, उपस्थित हैं...

हमारे मध्य...

आकर्षक, लावण्यमय रूपों में...

कैसे बचोगे?

सफ़ल होते ही घेर लेतीं हैं,

मँडराती हैं, फँसा लेती हैं...

अपने माधुर्य, मोह पाश, रूप के षड्यंत्र में...

कैसे बचोगे?

युगों-युगों से सत्ता, बाहुबलियों का

भयंकर समर्थन, सहयोग प्राप्त है उन्हें...

कैसे बचोगे?

तुम प्रतिभावान, सुशांत, मनोहर होगे...

तुम हृदय से उनपे न्योछावर भी होगे...

पर वो केवल भोग करेंगी तुम्हारा,

तुम्हारी सम्पत्ति का...

निचोड़ लेंगी तुम्हारे रक्त की बूँद-बूँद...

तत्पश्चात निश्चित है...

मृत्यु तुम्हारी!

कैसे बचोगे? 

कैसे बचोगे?

 कैसे बचोगे???

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company