Responsive Ad Slot

देश

national

माल बिजली विभाग के जेई द्वारा अवैध वसूली से परेशान किसान, एक ने की फांसी लगाकर आत्महत्या

Tuesday, August 18, 2020

/ by Dr Pradeep Dwivedi

लखनऊ। 

बिजली बिल और बिजली चोरी के जुर्माने की वसूली की आड़ में बिजली विभाग के जूनियर इंजीनियर के द्वारा किसानों से अवैध वसूली का मामला सामने आया है । बिजली चोरी के आरोप में लगातार भेजे जा रहे भारी भरकम जुर्माने से परेशान होकर एक किसान ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली ।

मामला उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के माल क्षेत्र का है । माल क्षेत्र के बसंतपुर पंचायत के जगदीशपुर के किसान इन्दरपाल पर बिजली चोरी का मामला दर्ज कराया गया था ।

एक सप्ताह पूर्व दस लाख जुर्माने की नोटिस मिलते ही किसान ने अपने आम के बाग में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली ।

मृतक की पत्नी ने बताया कि माल के जूनियर इंजीनियर विनीत कुमार द्वारा अवैध वसूली से पति इन्दरपाल परेशान रहते थे । उनके बाग में ट्रांसफार्मर लगा है और उसी ट्रांसफार्मर से किसी को कनेक्शन देना था तब कुछ अधिकारी बिजली का पोल गाड़ने उनके खेत आये थे । हमारे द्वारा पोल गाड़ने से मना करने कुछ दिन बाद हमारे ऊपर बिजली चोरी का मुकदमा दर्ज करा दिया गया ।

उसके बाद हमारे ऊपर पोल गाड़ने का दबाव लगातार बनाया गया ‌‌। जूनियर इंजीनियर विनीत कुमार ने मुकदमे के दबाव के चलते हमारे खेत में बिजली का पोल गाड़कर एक व्यक्ति को कनेक्शन दिया । इसके अलावा हमसे मुकदमा खत्म करने के एवज में एक लाख रुपए लिए गए । इसके बाद भी जुर्माना भरने की लगातार नोटिस हमें मिलती रहे जिससे परेशान होकर हमारे पति ने आत्महत्या कर ली ।

इसके अलावा माल क्षेत्र के ही जगतापुर निवासी कृष्ण मुरारी ने जूनियर इंजीनियर विनीत कुमार द्वारा फर्जी मामले में फंसाए जाने की धमकी देने की शिकायत की है । उन्होंने कहा कि मई माह में चेकिंग के दौरान विनीत कुमार ने बिजली चोरी का मुकदमा करने की धमकी दी थी तथा तब से लेकर अब तक लगातार बीस से पच्चीस हजार की अवैध वसूली की मांग की जा रही है ।

उपरोक्त मामले पर उत्तर प्रदेश अपना व्यापार मंडल के प्रदेश प्रवक्ता अजय यादव ने बिजली विभाग के उच्च अधिकारियों से इस मामले पर कार्रवाई करने की मांग की है ।

इसके अतिरिक्त ना जाने कितने मामले ऐसे हैं जिनमें किसानों का शोषण किया जा रहा है । गलत तरीके अपना कर भारी-भरकम बिल बनाकर लोगों को परेशान करना तथा उसकी आड़ में अवैध वसूली के आरोप लगातार विभाग के लोगों के ऊपर लगते रहते हैं । व्यापार मंडल के प्रवक्ता अजय यादव ने कहा कि ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों की वजह से ही सरकार बदनाम होती है ।

देखना यह है कि किसान कृष्ण मुरारी की शिकायत पर बिजली के उच्च अधिकारी कितना संज्ञान लेते हैं आरोपी विनीत कुमार के ऊपर क्या कार्रवाई होती है या इस किसान की भी आत्महत्या का इंतजार किया जाता है ।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company