Responsive Ad Slot

देश

national

नन्ही गौरैया के संरक्षण को आगे आए लोग : डा रवि कुमार

Saturday, September 26, 2020

/ by Editor

 लखनऊ।

अगर समय रहते इस नन्ही गौरैया पर हम सबने ध्यान नही दिया तो वह दिन दूर नहीं जब गौरैया किताबों व गूगल पर ही दिखाई देगी।यह बातें आज राजधानी के दुबग्गा स्थित लखनऊ वन रेंज के परिसर में पार्यावरण प्रेमी महेश साहू द्वारा मेरी प्यारी गौरैया मुहिम से गौरैया संरक्षण पर आयोजित गोष्ठी में अवध वन प्रभाग के प्रभागीय वनाधिकारी डा० रवि कुमार सिंह ने कही। 

राजधानी के दुबग्गा स्थित अवध वन प्रभाग के लखनऊ वन रेंज परिसर में पार्यावरण प्रेमी महेश साहू ने नन्ही गौरैया के संरक्षण के लिए मेरी प्यारी गौरैया के द्वारा एक  कार्यक्रम आयोजित किया जिसमें डीएफओ अवध डा0 रवि कुमार सिंह  व पार्यावरण प्रेमी महेश साहू ने निर्मल श्रीवास्तव  प्रधानाचार्य बाबू त्रिलोकी सिंह इंटर कालेज बरावन कला, संतोष तिवारी प्रधानाचार्य पीर नगर बालागंज प्राथमिक विधालय , हिमांशु गुप्ता अध्यक्ष श्री बुद्धेश्वर उधोग व्यापार मंडल, वरिष्ठ समाजसेवी विनोद कुमार साहू, बुद्धसेन गुप्ता, राकेश जायसवाल, जय गुप्ता , अवनीश, हिमांशु अवस्थी को नन्ही गौरैया के कृत्रिम घोंसले  व  दाना काकून व मिट्टी का पात्र भेट कर गौरैया संरक्षण के लिए आगे आने की अपील की ।

प्रभागीय वनाधिकारी अवध डा रवि कुमार सिंह ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि गौरैया एक घरेलू पंक्षी है जो हम सबके साथ रहना चाहती है पर इसकी घटती सख्यां एक चिंता का विषय बन गई है हमने उसका ,खाना, पीना सब छीन लिया है हमे उस प्यारी गौरैया के बचाने के लिए आगे आना होगा,हमें उसके घोसले के लिए सुरक्षित जगह , दाना,पानी के साथ ही अपने दिलो में जगह देनी होगी, वही पार्यावरण प्रेमी महेश साहू ने कहा कि सरकार के भरोसे हम इंसान नन्ही गौरैया को नहीं बचा सकते इसके लिए हमें आने वाले पीढ़ियों को बताना होगा कि नन्ही गौरैया व अन्य विलुप्त हो रहे पक्षियों का महत्व हमारे जीवन व पार्यावरण के लिए क्या खास अहमियत रखता है। गौरैया हमारे घर आंगन में चहकती थी पर वह अब हमसे दूर हो गई है गौरैया का पार्यावरण में अपना महत्व है। साथ ही उन्होंने कहा कि जनवरी 2021 तक 1011 लोगों को नन्ही गौरैया संरक्षण लिए के कृत्रिम घोंसले व दाना काकून, मिट्टी का पात्र देकर करेंगे जागरूक।

इस मौके पर रेंजर शिवकान्त शर्मा, डिप्टी रेंजर लईक अहमद ,वन दरोगा अमित सिंह, अंकित, दिनेश, कमलेश , रामनरेश वन रक्षक मगंटू प्रसाद उपस्थित रहे।

आपको बता दें पार्यवरण प्रेमी महेश साहू वर्ष 2017 से "मेरी प्यारी गौरैया" मुहिम चलाकर छात्र/छात्राओ व आमजनमानस को क्रत्रिम घोसले वितरित कर जागरूक करने का प्रयास लगातार कर रहे हैं।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company