Responsive Ad Slot

देश

national

दुनिया की पहली हाइड्रोजन ईंधन वाली पैसेंजर प्लेन ने भरी उड़ान

Monday, September 28, 2020

/ by Editor

 लंदन

हाइड्रोजन ईंधन से उड़ने वाले दुनिया के पहले पैसेंजर प्लेन ने ब्रिटेन में सफल उड़ान भरी है। इस प्लेन की उड़ान को वैश्विक विमानन उद्योग के लिए बड़ा कदम माना जा रहा है। विशेषज्ञों का कहना है कि इससे न केवल वायु प्रदूषण में कमी आएगी, बल्कि जीवाश्म ईंधन से हमारी निर्भरता भी कम होगी। इस विमान को ब्रिटिश एयरोस्पेस स्टार्टअप कंपनी ZeroAvia ने डिजाइन किया है।

क्रैनफील्ड हवाई अड्डे पर हुई टेस्टिंग
ZeroAvia के छह सीट वाले Piper M-ass यात्री विमान ने लंदन के उत्तर में लगभग 50 मील की दूरी पर क्रैनफील्ड हवाई अड्डे पर कंपनी के रिसर्च एंड डेवलेपमेंट साइट पर इस उड़ान को भरा। इस दौरान विमान ने हाइड्रोजन ईंधन की मदद से न केवल टेक ऑफ किया बल्कि फुल पैटर्न सर्किट को पूरा करते हुए शानदार लैंडिंग भी की।

पहली बार किसी कॉमर्शियल पैसेंजर प्लेन ने भरी उड़ान
कंपनी ने दावा किया कि हाइड्रोजन ईंधन से संचालित एक वाणिज्यिक-श्रेणी के विमान की यह दुनिया की पहली उड़ान है। ZeroAvia कंपनी के सीईओ वैल मिफ्तखोव ने एक बयान में कहा कि पहले भी कुछ प्रायोगिक विमानों ने हाइड्रोजन का उपयोग कर अपनी उड़ान को पूरा किया है लेकिन, व्यवसायिक रूप से एक यात्री विमान की यह पहली उड़ान है।

ब्रिटिश सरकार भी इस प्रोजक्ट में शामिल
ZeroAvia की पहली हाइड्रोजन फ्लाइट HyFlyer प्रोजक्ट का एक हिस्सा है। इस प्रोजक्ट में कई कंपनियां शामिल हैं। इसे ब्रिटिश सरकार ने भी मध्यम-श्रेणी के छोटे यात्री विमानों को डीकार्बोनाइज करने के उद्देश्य से समर्थन दिया है। बता दें कि इसी साल जून में इस Piper M-ass विमान ने बैटरी पॉवर्ड टेस्ट फ्लाइट को पूरा किया था।

2021 के अंत तक 250 मील होगी इसकी रेंज
कंपनी ने बताया कि उसका अगला लक्ष्य 2021 के अंत तक इस विमान के उड़ान की रेंज को बढ़ाकर 250 मील तक करना है। इससे यह विमान प्रमुख शहरों जैसे न्यूयॉर्क से बोस्टन और लॉस एंजिल्स से सैन फ्रांसिस्को के बीच लोकप्रिय हवाई मार्गों के बीच उड़ान भरने में सक्षम होगा।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company