Responsive Ad Slot

देश

national

जिलाधिकारी ने किया इंटीग्रल इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंसेस एण्ड रिसर्च सेंटर का आकस्मिक निरीक्षण

Monday, September 28, 2020

/ by Dr Pradeep Dwivedi

सीसीटीवी के द्वारा कोविड रोगियों की मॉनिटरिंग की गई।

कोविड रोगियों के समुचित उपचार की व्यवस्था के साथ  समय समय पर चिकित्सको द्वारा राउंड लेकर रोगियों की मॉनिटरिंग भी की जाए- जिलाधिकारी

लखनऊ। 

कोविड 19 रोगियों को उपलब्ध कराए जा रहे उपचार के भौतिक सत्यापन के उद्देश्य से आज जिलाधिकारी श्री अभिषेक प्रकाश द्वारा इंटीग्रल इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंसेस एण्ड रिसर्च, कुर्सी रोड, लखनऊ का औचक निरीक्षण किया गया।

       निरीक्षण के दौरान अवगत कराया गया कि चिकित्सालय में ट्रायज एरिया (नाॅन कोविड) की व्यवस्था है तथा होल्डिंग एरिया (कोविड) की व्यवस्था उपलब्ध नहीं है। जिसके लिए निर्देश दिया गया कि चिकित्सालय में तत्काल होल्डिंग एरिया की व्यवस्था को सुनिश्चित कराया जाए, जहां पर किट्रिकल केस वाले मरीज को एम्बुलेंस से निकाल कर मरीज को होल्डिंग एरिया में ही स्टेबल किया जाये।

          चिकित्सकों द्वारा अवगत कराया गया कि चिकित्सालय में एम्बुलेंस से मरीज को 15 मिनट में ही बेड पर शिफ्ट कर दिया जाता है। डी0जी0एम0ई0 द्वारा अस्पताल को 05 चिकित्सक  दिये गये थे, जिनमें से मात्र 02 डाॅ0 पी0वी0 कुमार एवं डाॅ0 करमचन्द ने ही ज्वाइन किया। जिसके लिये निर्देश दिया गया कि बाकी के 3 चिकित्सकों को भी तत्काल जॉइन कराया जाए। हास्पिटल प्रबंधन द्वारा बताया गया कि हास्पिटल में क्रिटिकल केयर बेड की संख्या कुल 80 है, जिसमें से 68 बेड पर मरीज भर्ती है शेष 12 बेड रिक्त हैं।

निरीक्षण के दौरान चिकित्सकों द्वारा अवगत कराया गया कि एच0डी0यू0 के 13 बेड उपलब्ध है, परन्तु उनको मैनपावर की उपलब्धता न होने के कारण संचालन नहीं किया जा रहा है। जिसके लिए निर्देश दिया गया कि नियुक्ति करके उक्त बेड को भी शुरू कराया जाए। चिकित्सकों द्वारा आक्सीजन के बारे में पूछे जाने पर अवगत कराया गया कि एच0एफ0एन0सी0 में 02 घण्टे में 01 जम्बो आक्सीजन सिलेण्डर की खपत होती है। साथ ही यह भी अवगत कराया गया कि प्रतिदिन 100 सिलेण्डर की खपत होती है। आक्सीजन सिलेण्डर की आपूर्ति 100 के स्थान पर 200 सिलेण्डर प्रतिदिन बढ़ाये जाने हेतु निर्देशित किया गया। 05 एच0एफ0एन0सी0 की उपलब्धता है, जो वर्तमान में संचालित नहीं है। बाई पेप की कुल सं0-20 बताई गई, जिसमें से 13 संचालित हैं तथा शेष 07 रिक्त हैं। वेंटीलेटर की कुल सं0-18 है, जो कि सभी संचालित है।

          निरीक्षण के दौरान ड्यूटी चार्ट का परीक्षण किया गया। परीक्षण के दौरान डाॅ0 अनुज रस्तोगी से दूरभाष द्वारा वार्ता की गई, जिनके द्वारा बताया गया एच0डी0यू0 में ए व बी वार्ड बनाये गये। एच0डी0यू0 वार्ड में कुल 51 मरीज भर्ती हैं। वेंटीलेटर पर कोई भी मरीज नहीं है तथा बाई पेप के 02 बेड हैं, जिस पर मरीज भर्ती हैं। साथ ही सी0सी0टी0वी0 के माध्यम से भी रोगियों को उपलब्ध कराए जा रहे उपचार की समीक्षा की गई । चिकित्सालय परिसर में पर्याप्त साफ-सफाई पाई गई तथा साफ-सफाई के साथ-साथ सेनेटाइजेशन का कार्य भी होता पाया गया। चिकित्सालय में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करने के भी निर्देश दिये गये। निरीक्षण के दौरान डाॅ0 आर0पी0 सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, लखनऊ, डाॅ0 सुधीर मेहरोत्रा (कर्नल), डा0 इदरीस, डा0 ए0एच0 रिज़वी, डाॅ0 फरीद मोहम्मद सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company