Responsive Ad Slot

देश

national

अभी पीड़िता के परिवार को न्‍याय दिलाए सरकार, समय बताएगा सरकार का आरोप सही है या चुनावी चाल- बसपा सुप्रीमो मायावती

Tuesday, October 6, 2020

/ by Editor

 लखनऊ 

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्‍यमंत्री और बसपा अध्‍यक्ष मायावती ने विपक्ष पर हाथरस कांड के बहाने यूपी में दंगा फैलाने की साजिश के आरोप को लेकर योगी सरकार पर पलटवार किया है। उन्‍होंने कहा कि यह आरोप सही है या गलत, यह तो समय बताएगा लेकिन जनमत की मांग यह है कि सरकार अभी पीड़िता के परिवार को न्‍याय दिलाने पर अपना ध्‍यान केंद्रित करे।

मंगलवार सुबह एक ट्वीट में बसपा अध्‍यक्ष ने लिखा- हाथरस कांड की आड़ में विकास को प्रभावित करने के लिए जातीय और सांप्रदायिक दंगा भड़काने की साजिश का विपक्ष पर लगाया गया यूपी सरकार का आरोप सही या चुनावी चाल, यह समय बताएगा।

योगी ने विपक्ष पर लगाया था साजिश रचने का आरोप

मुख्‍यमंत्री योगी ने विपक्ष पर हाथरस कांड के बहाने यूपी में दंगा फैलाने की साजिश रचने का आरोप लगाया था। योगी ने कहा था कि विपक्ष को विकास अच्छा नहीं लग रहा है। वह देश और प्रदेश में जातीय व सांप्रदायिक दंगा भड़काना चाहता है। दंगों की आड़ में विपक्ष को सियासी रोटियां सेंकने का मौका मिलेगा और विकास रुकेगा। इसलिए विपक्षी दल नित्य नए षड्यंत्र करते रहते हैं। हमें साजिशों के प्रति सतर्क रहते हुए विकास की प्रक्रिया को तेजी से आगे बढ़ाना है।

दंगा फैलाने की साजिश का हुआ था खुलासा

उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में सोमवार रात पुलिस ने चरमपंथी संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और उसके सहयोगी कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया (CFI) से जुड़े चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए लोगों के पास हाथरस गैंगरेप मामले से जुड़ा भड़काऊ साहित्य मिला है। इनके मोबाइल, लैपटॉप जब्त किए गए हैं। चारों आरोपी दिल्ली से आए थे और हाथरस जा रहे थे। पुलिस और खुफिया एजेंसियां आरोपियों से पूछताछ में जुटी हैं। पुलिस ने हाथरस के बहाने यूपी में जातीय हिंसा भड़काने की साजिश का खुलासा रविवार को ही किया था। इसमें PFI का नाम भी सामने आया था।


No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company