Responsive Ad Slot

देश

national

डीएलएड 17 व 18 बैच के प्रशिक्षुओं ने दिया धरना, संस्था एक आवाज एक मिशन ने किया समर्थन

Saturday, October 17, 2020

/ by Dr Pradeep Dwivedi

 


o संस्था एक आवाज एक मिशन ने बांटे मास्क व सेनेटाइजर

सुरेश कश्यप (वरिष्ठ संवाददाता)

लखनऊ। 

राजधानी के इको गार्डन के धरना स्थल पर डीएलएड के 17 व 18 बैच के समस्त प्रशिक्षुओं ने परीक्षायें स्थगित होने के विरोध में प्रदर्शन किया। काफी संख्या में छात्र-छात्रायें इस प्रदर्शन में शामिल हुईं। प्रदर्शन के दौरान कई छात्रायें बेहोश होकर गिर पड़ी। पुलिस मूक दर्शक बनी रही। लखनऊ की संस्था एक आवाज एक मिशन के संयोजक राकेश तिवारी ने इस धरने व उनकी मांगों का समर्थन किया। उन्होने छात्रों को सम्बोधित करते हुये कहा कि इनकी मांगों को पूरा किया जाना चाहिये। 

मिली जानकारी के अनुसार डीएलएड की परीक्षा मार्च 26, 27 व 28 को सम्पन्न करायी जानी थी, किन्तु कोरोना महामारी के चलते परिक्षायें स्थगित हो गयीं। छात्रों के प्रशिक्षण का 2 वर्ष 5 जुलाई 2020 को पूर्ण हो गया था। लेकिन तृतीय सेमेस्टर की परिक्षायें नहीं करायी जा सकीं। इस अवसर पर डीएलएड संयुक्त मोर्चा उ0प्र0 के अध्यक्ष रजत सिंह ने बताया कि कोरोना महामारी के प्रभाव को मद्देनजर रखते हुये उत्तर प्रदेश शासन द्वारा डीएलएड तृतीय सेमेस्टर  (18 बैच) व प्रथम सेमेस्टर (19 बैच) के प्रशिक्षुओं को प्रोन्नत के सम्बन्ध में जो आदेश आया है उसमें कई विसंगतियां हैं। उन्होने कहा कि 18 बैच के जिन प्रशिक्षुओं के प्रथम अथवा द्वितीय सेमेस्टर के किसी एक या दो विषय में बैक लगा था उन्हें प्रोन्नत नहीं किया गया है। जिन प्रशिक्षुओं को प्रोन्नत किया गया उन्हें तृतीय सेमेस्टर के समस्त विषयों की परीक्षा नहीं देनी पड़ेगी। प्रोन्नत न किये जाने वाले छात्रों को चतुर्थ सेमेस्टर में प्रोन्नत छात्रों के साथ परीक्षा देने से वंचित किया जा रहा है। डीएलएड 17 बैच जिन प्रशिक्षुओं का सेमेस्टर बैक हो गया था और उन्होने प्रथम एवं द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षा 18 बैच के साथ भलीभांति उत्तीर्ण कर लिया है उन्हें भी तृतीय सेमेस्टर में प्रोन्नत नहीं किया जा रहा है। यूजीसी नियम के तहत बैक विषय के प्रशिक्षुओं को भी प्रोन्नत करने का प्रावधान है। उन्होने सम्बोधित करते हुये कहा कि इन सभी विसंगतियों का निराकरण किया जाना चाहिये तथा समस्त 18 बैच तृतीय सेमेस्टर प्रोन्नत किया जाये व उनके साथ प्रोन्नत हुये छात्रों के साथ परीक्षा करायी जाये। 17 बैच के बैक सेमेस्टर (जीओ आधार पर मान्य) को तृतीय सेमेस्टर प्रोन्नत कर चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा में शामिल किया जाये।

एक आवाज एक मिशन के संयोजक राकेश तिवारी ने अपने सम्बोधन में कहा कि इन छात्रों की मांगों को पूरा किया जाना चाहिये। उन्होने कहा कि दूर-दराज से आये छात्र-छात्राओं का इस तहर धरना देना शिक्षा जगत के लिये शर्म की बात है। मैं सरकार से मांग करता हूं कि तुरन्त इनकी समस्याओं का निराकरण किया जाना चाहिये। इस अवसर पर संस्था की तरफ से मास्क व सेनेटाइजर छात्र-छात्राओं को वितरित किया गया। संस्था के ही द्वारा सभी छात्रों के भोजन की व्यवस्था संस्था के संयोजक राकेश तिवारी व उनके सहयोगियां ने की।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company