Responsive Ad Slot

देश

national

जेपी वाहिनी ने जय प्रकाश नारायण के जन्मदिन ओर गोष्टी का आयोजन किया

Tuesday, October 13, 2020

/ by Dr Pradeep Dwivedi

 

लखनऊ।

लोकनायक जयप्रकाश नारायण के जन्मदिवस पर 12 अक्टूबर को एक गोष्ठी का आयोजन के .सी .जैन एडवोकेट नेता भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष जे. पी. वाहिनी के द्वारा जे सी गेस्ट हाउस निराला नगर   लखनऊ में  किया गया।   कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में  माननीय  प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भारतीय जनता पार्टी वह मुख्य वक्ता के रूप में  माननीय बृजेश पाठक कैबिनेट मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार व अध्यक्षता माननीय अध्यक्ष अवध क्षेत्र  शेष नारायण जी के द्वारा की गयी। विशिष्ट अतिथि के रूप में पूर्व डीजीपी बृजलाल जी, राज्यमंत्री माननीय लाल जी निर्मल ,सर्वेश,कार्यकारी निदेशक  पत्रिका राष्ट्रधर्म कार्यक्रम में मौजूद रहे कार्यक्रम को माननीय स्वतंत्र देव सिंह व माननीय बृजेश पाठक जी ने वर्चुअल माध्यम से संबोधित किया ।वही दीप प्रज्वलन कर व जयप्रकाश नारायण के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम की  विधिवत शुरुआत की गई मंच पर मौजूद  राज्य मंत्री डॉक्टर लाल जी निर्मल पूर्व डीजीपी बृजलाल जी  सर्वेश अशोक पांडे का  माल्यार्पण कर  व अंग वस्त्र भेंट कर केसी जैन के द्वारा सभी का स्वागत सम्मान किया गया।

मंच पर मौजूद लालजी निर्मल राज्यमंत्री ने लोकनायक जयप्रकाश नारायण पर प्रकाश डालते हुए कहा कि आज के समय में राजतंत्रत्मक व्यवस्था कहीं ना कहीं हावी हो रही है जबकि आज के समय में इस बात की आवश्यकता है कि लोकतांत्रिक व्यवस्था को सक्रियता से वह बलपूर्वक लागू किया जाए वर्तमान की सरकार ने जात-पात के भेदभाव को खत्म किया है व दलितों पर हो रहे अत्याचारों को भी समाप्त किया है और यदि कहीं दलितों पर कोई उत्पीड़न होता है तो अभियुक्तों के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी की सरकार में तत्काल कार्रवाई की जाती है ।जो कि आज के पहले नहीं थी कार्यक्रम में विशेष रूप में उपस्थित पूर्व डीजीपी बृजलाल ने संबोधित करते हुए कहा कि के.सी .जैन द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम से युवाओं को प्रेरणा मिलेगी युवाओं को आगे आकर सामाजिक कार्यों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए पूर्व डीजीपी बृजलाल ने कहा की अमीरी गरीबी की खाई को पाटने का प्रयास करना चाहिए साथ ही साथ जात पात धर्म की राजनीति से ऊपर उठकर युवाओं को सोचना होगा और काम करना होगा तभी जयप्रकाश जी की आज के समय में सच्ची श्रद्धांजलि होगी कार्यक्रम में उपस्थित राष्ट्र धर्म के कार्यकारी निदेशक सर्वेश जी ने कहा की लोकनायक जयप्रकाश नारायण की सप्त क्रांति एक तरीके से लोकतंत्र को बढ़ावा देने वाली और लोकतांत्रिक मूल्यों को स्थापित करने वाली क्रांति थी

वही भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता अशोक पांडे जी ने कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रमों से युवाओं को प्रेरणा मिलती है जयप्रकाश नारायण जी को आपातकाल के बाद जब सत्ता में बैठने का अवसर मिला तो उन्होंने कुर्सी से अपनी दूरी बना ली और किसी भी प्रकार का पद नहीं लिया कार्यक्रम के आयोजक केसी जैन ने कहा की लोकनायक जयप्रकाश नारायण की सप्त क्रांति आज भी युवाओं के लिए और समाज के लिए प्ररणा का केंद्र बिंदु है लोकनायक जयप्रकाश नारायण जी  कभी भी सत्ता के लोलुप नहीं रहे और ना ही वह सरकार की ताकत से डरे। 

 हमेशा सच्चाई के लिए लड़ते रहे और जब इंदिरा गांधी को न्यायालय द्वारा अयोग्य घोषित कर दिया तब उन्होंने एक बड़ा आंदोलन किया और इंदिरा गांधी की सरकार के द्वारा आपातकाल लगा दिया गया लेकिन जयप्रकाश जी की लड़ाई के कारण आंदोलन के कारण आखिर में सरकार को आपातकाल हटाना पड़ा और लोकतंत्र की जय हुई कार्यक्रम में एक भाषण प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया जिसमें करीब 25 छात्रों ने भाग लिया जिन्हें सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया गया और प्रथम व द्वितीय व तृतीय पुरस्कार अच्छा बोलने वालों को दिया गया साथ ही साथ जीव दया पर काम करने वाले कई सारे संगठनों को भी सम्मानित किया गया जिसमें ललित एडवोकेट को व सीतापुर से है शुक्ला जी को अन्य कई लोगों को भी जीव दया के लिए सम्मानित किया गया।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company