Responsive Ad Slot

देश

national

कृषि विभाग के माध्यम से किसानों को दिया गया तकनीकी ज्ञान

Wednesday, December 2, 2020

/ by Editor

निर्मल सैनी

मलिहाबाद -लखनऊ 

राजकीय कृषि बीज भंडार में किसान गोष्ठी में कृषि विभाग द्वारा रबी की फसलों की जानकारी दी गई। जिसमें गेहूं चना मटर मसूर सरसों आदि फसलों की विस्तृत जानकारी दी गई साथ ही रसायनिक खादों और कीटनाशकों से होने वाले नुकसानों की जानकारी दी साथ ही किसानों की मिट्टी का परीक्षण करा कर ही फसलों मे उर्वरक प्रयोग करने की अपील की गई।

इस गोष्ठी में सैकड़ों किसानों ने आकर भाग लिया और  ज्यादा से ज्यादा संख्या में किसानों ने अपने खेतों की मिट्टी परीक्षण कराने का  सुझाव दिया गया कृषि विभाग के  कर्मचारी जिसमें  ब्लॉक मलिहाबाद बीटीएम माधवेंद्र सिंह चौहान, एटीएम विमल कुमार सिंह,  एटीएम चक्रेश कुमार , रामकेश मीणा, घनश्याम सिंह प्रदीप कुमार ने  किसानों को उनके हित के लिए सुझाव दिए, साथ ही साथ रबी की फसलों मैं मुख्य तौर से गेहूं, सरसों ,मटर चना ,मसूर आदि फसलों की खेती की जानकारी दी और किसानों को बताया की रसायनिक खाद से हमारे उपजाऊ खेतो की मिट्टी खराब होने के साथ खाने वाले राशन से तरह-तरह की शारिरिक बीमारी पैदा हो रही यदि इससे बचना है तो आर्गेनिक का प्रयोग कर अपने खेतों की उपजाऊ बढ़ाये।

इस दौरान ये भी बताया कि बगैर यूरिया डीएपी और कीटनाशक का इस्तेमाल किये हुए जैविक यानि शुद्ध खेती के तरीकों से खेती में आने वाली लागत कम करके पैदावार कैसे बढ़ाई जाए साथ ही पशुओ में होने वाली बीमारी व बाझपन से निजात के लिये ऑर्गेनिक की जानकारी दी  बी टी एम महोदय द्वारा दिए गए दिशा निर्देश अनुसार किसानों को खेतों में पराली न जलाने की सलाह दी  और उसे चारे के रूप में इस्तेमाल करें अगर आपके पास ज्यादा है तो गौशाला को दें वहां से आपको गोबर से बनी खाद आपको मिल जाएगी अगर किसान खेत में फसल अवशेष जलाते हैं तो  दंडनीय अपराध है अगर इसमें दो एकड़ से कम क्षेत्र के लिए 2500  प्रति घटना दो से पांच  एकड़ 5000 घटना  अपराध की पुनरावृत्ति होने या करने पर कारावास व अर्थदंड से दंडित किया जाएगा,इसके साथ साथ कृषि विभाग की समस्त योजनाओं की जानकारियां प्रदान की गई ।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company