Responsive Ad Slot

देश

national

ऑफलाइन कक्षाओं में कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ा रहा लखनऊ विश्वविद्यालय प्रशासन

Monday, December 7, 2020

/ by Editor

 लखनऊ

कोरोना काल में बढ़ती महामारी के बीच सरकार के आदेशानुसार भीड़-भाड़ वाली हर उस जगह पर लोगों को प्रतिबंधित कर दिया गया, जहां कोविड-19 के फैलने का खतरा बढ़ रहा था। सरकारी कार्यालयों से लेकर शिक्षण संस्थानों तक हर जगह ताला लगा दिया गया था। इसी के चलते काफी समय बीतने के बाद सोमवार को लखनऊ विश्वविद्यालय में दोबारा से कक्षाएं शुरू की गईं। विश्वविद्यालय प्रशासन के अनुसार सभी कक्षाएं 2 पालियों में कम से कम संख्याओं के साथ चलाई जाएंगी, जिससे शिक्षण कार्य निरन्तर चलता रहे और कोरोना फैलने का खतरा भी न हो। इसके लिए छात्रों के पास मास्क और सेनेटाइजर होना अनिवार्य किया गया है।

पिछले दिनों लखनऊ विश्वविद्यालय में मनाए गए शताब्दी समारोह के बाद कोरोना महामारी के बीच जारी किए गए नियमों के साथ ऑफलाइन कक्षाएं तो शुरू की गईं लेकिन, प्रशासन के कर्मचारी उन्हीं नियमों का उल्‍लंघन करते भी नजर आए। विश्वविद्यालय के छोटे कर्मचारी से लेकर विभाग में पढ़ा रहे हर दूसरे शिक्षक तक सभी बिना मास्क ही नजर आएं। अब सवाल ये हैं कि पहले दिन ही छात्र/छात्राओं की भीड़ के बीच अगर कोरोना नियमों का उल्‍लंघन होगा तो कोरोना से लड़ी जा रही जंग कैसे जीती जाएगी?

आर्ट्स कॉलेज में भी चंद छात्रों के बीच पसरा सन्नाटा
लखनऊ विश्वविद्यालय की आर्ट्स फैकल्टी यानि आर्ट्स कॉलेज में कोरोना का डर साफ नजर आया। डीन आलोक कुमार ने बताया कि इस वर्ष सभी डिपार्टमेंट्स को मिला कर कुल 100 छात्र/छात्राओं का एडमिशन हुआ है, लेकिन कोरोना के कारण कक्षाएं शुरू होने के बाद भी कोई नहीं आ रहा। हालांकि, सरकारी नियमों का पालन करते हुए सभी छात्रों के साथ विभाग के लोगों को मास्क और सेनेटाइजर पास रखने के निर्देश दिए गए हैं।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company