Responsive Ad Slot

देश

national

डाइटिंग छोड़ खाइए गोलगप्‍पे, घटा सकते हैं भारी वजन

Sunday, January 24, 2021

/ by Editor

गोलगप्पों का चटपटा स्वाद आखिर किसे अच्छा नहीं लगता है। गोलगप्‍पे देश के सबसे पसंदीदा स्ट्रीट स्नैक्स में से एक है। हालांकि बहुत से लोग अपने सख्त डाइट प्लान के कारण गोलगप्पे खाने से परहेज करते हैं। लेकिन अगर हम कहें कि गोलगप्पे खाने से वजन घटता है, तो शायद आपको ताज्जुब होगा।

दरअसल, शरीर की अतिरिक्त चर्बी कम करने में गोलगप्पे बहुत मदद करते हैं। एक गोलगप्पा में 36 कैलोरी होता है। यहां तक कि एक फुल प्लेट गोलगप्पे खाने से आपको कुल 216 कैलोरी मिलती है। 
आइए जानते हैं वजन घटाने में गोलगप्पे किस तरह फायदेमंद हैं-

गोलगप्पे खाने से नहीं लगती भूख
मोटापे से ग्रसित लोगों के लिए गोलगप्पा एक हेल्दी स्नैक ऑप्शन हो सकता है। अगर आप डाइट पर हैं और जल्दी वजन कम करना चाहते हैं तो 6 गोलगप्पों की एक प्लेट आपका वजन कम करने में मदद कर सकती है। गोलगप्पे का पानी काफी चटपटा और तेज होता है। इसे खाने के अगले कई घंटों तक भूख नहीं लगती है। यह एक स्वादिष्ट स्नैक है और वजन घटाने में मदद करता है। गोलगप्पे खाने के साथ ही आपको वर्कआउट करना और रोजाना टहलना भी चाहिए।

वजन घटाने के लिए घर के बने गोलगप्पे ही खाएं
बहुत सारे डाइटीशियन सुझाव देते हैं कि पानीपुरी वजन कम करने में केवल तभी मदद करता है जब आप घर पर तैयार किए गए पदार्थों का सेवन करें। घर पर आप गेहूं की पूरियां तैयार कर सकते हैं और उन्हें कम तेल में पका सकते हैं। दूसरी ओर, आप मीठे पानी की जगह जीरा या जलजीरा का उपयोग कर सकते हैं। चना या मूंग दाल जैसी हेल्दी चीजें भरना इसे और भी हेल्दी बना सकती हैं।

इसके पानी के कई फायदे

गोलगप्पों और घर पर तैयार इसके पानी के कई फायदे हो सकते हैं। यदि आप पुदीना, जीरा और हींग का उपयोग करके घर पर गोलगप्पे का पानी तैयार करते हैं, तो यह पाचन में मदद करेगा। धनिया या धनिया के पत्तों का भी उपयोग किया जा सकता है क्योंकि ये सूजन को रोकते हैं। हींग पीरियड्स के दौरान ऐंठन को कम में मदद करती है। जीरा पाचन में मदद करता है। गोलगप्पे के पानी में बहुत सारे पाचन गुण होते हैं। जीरा पाचन में सहायक होता है और यह मुंह की दुर्गंध को भी रोकता है। पुदीना एंटीऑक्सिडेंट और फाइटोन्यूट्रिएंट से भरपूर होता है जो पाचन में मदद करता है। यह पेट की ऐंठन को भी शांत करता है और एसिडिटी को नियंत्रित करने में मदद करता है और इरिटेबल बाउल सिंड्रोम के रोगियों के लिए फायदेमंद होता है।

गोलगप्पे खाने से पहले इन बातों का रखें ध्यान-
1- गोलगप्पों में मीठी चटनी खाने से बचें।
2- मीठे पानी के बजाय, खट्टा या पुदीना पानी खाने की कोशिश करें। कुछ विक्रेता विभिन्न प्रकार के गोलगप्पे के पानी का विकल्प भी देते हैं जैसे हींग, अजवाइन या जीरा। आप इन्हें आजमा सकते हैं क्योंकि ये पाचन में सहायक होते हैं।
3- गोलगप्पे में आलू की स्टफिंग के बजाय, चना या मूंग स्प्राउट्स स्टफिंग करें। ये स्वास्थ्यवर्धक होते हैं और गोलगप्पों के स्वाद को भी बढ़ा देते हैं।
4- सूजी से बने गोलगप्पों से परहेज करने की कोशिश करें और आटे के गोलगप्पे खाएं।




No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company