देश

national

गोरखपुर: लुटेरे निकले असली पुलिस वाले, कारोबारियों से चेकिंग के बहाने लुटे थे लाखों रुपये

Friday, January 22, 2021

/ by Editor

गोरखपुर

यूपी में गोरखपुर बस स्टेशन से महाराजगंज जिले के दो सर्राफा कारोबारियों के साथ लूट के आरोपी असली पुलिसवाले ही थे। कारोबारियों से चेकिंग के बहाने अगवा कर नौसढ़ में 19 लाख रुपये और 11.20 लाख रुपये की कीमत के गहने लूटे गए थे। गोरखपुर पुलिस ने गुरुवार को इन असली पुलिसवालों को दबोच लिया।

बस्ती जिले के पुराना बस्ती थाना में तैनात एक दारोगा और दोनों सिपाहियों से पुलिस ने नगदी और सोना बरामद कर लिया है। एसएसपी ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ एनएसए और गैंगस्टर की कार्रवाई होगी। आरोपियों की बर्खास्तगी के लिए अधिकारियों को लिखा जा रहा है।

पुलिसवालों ने की मामले को दबाने की कोशिश
महाराजगंज के निचलौल कस्बा से लखनऊ की तरफ जा रहे दो सराफा कारोबारियों दीपक वर्मा और रामू वर्मा को बुधवार सुबह वर्दीधारी बदमाशों ने चेकिंग के बहाने बस स्टेशन में बस से उतारकर रुपये और सोना लूट लिया था। व्यापारी शिकायत लेकर पहुंचे तो पहले पुलिसवालों ने मामले को दबाने की कोशिश की।

बाद में अफसरों के कड़े तेवर के बाद पुलिस सक्रिय हुई और सीसीटीवी की मदद से पहले बोलेरो की तलाश शुरू हुई। फुटेज के जरिए एक बोलेरो के बारे में जानकारी हुई जो कि बस्ती की निकली। बोलेरो के नंबर के जरिए पुलिस को पता लगा कि बस्ती जिले के पुराना बस्ती थाने में तैनात दारोगा धर्मेंद्र यादव, सिपाही महेन्द्र यादव और संतोष यादव गाड़ी लेकर गए थे। इस सूचना के बाद गोरखपुर पुलिस की एक टीम बस्ती रवाना हुई।

कड़ी पूछताछ के बाद कबूला गुनाह
पुलिस ने पहले बोलेरो के ड्राइवर देवेंद्र यादव को दबोचा। ड्राइवर ने बताया कि साहब लोगों उसे लेकर गोरखपुर गए थे। उन्होंने बताया था कि दबिश में एक बदमाश को पकड़ना है। गोरखपुर की पुलिस टीम ने दारोगा धर्मेंद्र यादव और दोनों सिपाहियों को दबोच लिया। कड़ी पूछताछ के बाद पुलिस वालों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया। एसएसपी जोगेन्द्र कुमार ने बताया कि उनके पास से लूट की रकम और सोना बरामद कर लिया गया है।

एसएसपी ने बताया कि 30 दिसंबर को शाहपुर इलाके में एक अन्य कारोबारी से हुई लूट भी इन्हीं आरोपियों ने की थी। उस घटना में दारोगा के अलावा एक अन्य सिपाही और यही बोलेरो चालक शामिल था। उस घटना में लूटी गई चांदी के गहने पुलिस ने बरामद कर लिए हैं। खुलासा करने वाली टीम को एसएसपी ने 25 हजार रुपये पुरस्कार देने की घोषणा की।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company