Responsive Ad Slot

देश

national

यात्रियों की होगी जेब ढीली, अब पैसेंजर ट्रेन में देना पड़ेगा मेल-एक्सप्रेस का किराया

Sunday, February 21, 2021

/ by Indevin Times

लखनऊ

कोविड-19 के बहाने रेलवे बोर्ड ने लाखों यात्रियों को बड़ा झटका दिया है। उत्तर रेलवे 22 फरवरी से जोन में करीब तीन दर्जन ट्रेनें चलाएगा। ये ट्रेनें पैसेंजर होंगी। लेकिन इनमें सफर करने वाले यात्रियों को एक्सप्रेस का किराया देना पड़ेगा। लोग इन ट्रेनों में बिना आरक्षण करवाए यूटीएस काउंटरों से टिकट लेकर सफर कर सकेंगे। लेकिन एमएसटी पर सफर नहीं कर सकेंगे।

तीन गुना तक किराया देना पड़ेगा
लखनऊ मंडल में फिलहाल छह ट्रेनें चलाई जानी हैं, जो हर स्टेशन पर रुकेंगी। इससे कानपुर, लखनऊ, बाराबंकी, फैजाबाद, प्रतापगढ व वाराणसी समेत कई जिलों के हजारों यात्रियों को सुविधा मिलेगी। लेकिन उन्हें करीब तीन गुना तक किराया देना पड़ेगा।

खुलेंगे यूटीएस काउंटर
नॉर्दर्न रेलवे सीपीआरओ दीपक कुमार ने बताया कि 22 फरवरी से चलने वाली ट्रेनों में आरक्षण की जरूरत नहीं होगी। यात्री यूटीएस काउंटरों से टिकट लेकर सफर कर सकेंगे। इसके लिए सीनियर डीसीएम जगतोष शुक्ल ने लखनऊ-फैजाबाद, लखनऊ-कानपुर के साथ वाराणसी-प्रतापगढ़ रूट के स्टेशनों के यूटीएस काउंटर खोलने के निर्देश दिए हैं।

चारबाग से पैसेंजर एक्सप्रेस
स्टेशन--पैसेंजर किराया--एक्सप्रेस किराया
अमौसी--10--30
उन्नाव--15--35
कानपुर--20--40
बाराबंकी--10--30
रुदौली--25--50
फैजाबाद--30--60
(आम तौर पर पैसेंजर ट्रेनों में न्यूनतम 10 किमी का किराया 10 रुपये देना पड़ता है। मेल और एक्सप्रेस ट्रेन में न्यूनतम 50 किमी दूरी का किराया 50 रुपये होता है।)

मार्च से चलेंगी छपरा की दो ट्रेनें
अगले महीने से फर्रुखाबाद और लखनऊ जंक्शन से छपरा के लिए दो ट्रेनें चलेंगी। लखनऊ की ट्रेन एक मार्च से सप्ताह में चार दिन तो फर्रुखाबाद की ट्रेन दो मार्च से हफ्ते में तीन दिन चलेगी। एनईआर के सीपीआरओ पीके सिंह ने बताया कि दोनों ट्रेनों के संचालन की तारीख भी तय कर दी गई है।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company