देश

national

भाये देखो मन अनुरागी - चंद्र किरण शर्मा

Tuesday, March 16, 2021

/ by Dr Pradeep Dwivedi


चंद्र किरण शर्मा
भाटापारा


 लाल गुलाबी और परागी।

 भाये देखो मन अनुरागी।

 झूमे नाचे सब तालों पर ।

छाई मस्ती मत वालों पर।

 लेकर प्यार अनोखा ये

नव बसंत सी आई है ।।


आओ हृदय  प्रीत रंगो तुम।

 मन भायी होली आई है।


 सजी टेसुओं की टोली है।

 आंखों सरसों सी पीली है ।

रंगों से सब मन रंगे हैं ।

झूमे सारे हमजोली हैं ।

देख धरा भी नाच रही है।

नवल प्रभाती  भी लाई है।


 फागुन छेड़े है जो सरगम ।

भूले सारे है जो हर गम ।

पिचकारी में रंग प्रीत का ।

नफरत भी मिट जाए हर दम।


 आओ मिलकर खेले होली।

 सुमन सुमन भी मुस्काई है ।

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group