Responsive Ad Slot

देश

national

कन्याओं के लिए कोरोना काल में बेस्ट रहेंगे सेफ्टी के ये उपहार

Monday, April 19, 2021

/ by Dr Pradeep Dwivedi

इंडेविन न्यूज नेटवर्क

कोरोना से बचने के लिए किसी को सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क पहनने आदि नियमों का पालन करने की सलाह दी जा रही है। ताकि इस वायरस की चपेट में आने से बचा जा सके। मगर इस दौरान नवरात्रि के पावन दिन चल रहे हैं। इसके बाद अष्टमी में कन्या पूजा होता है। इस दौरान लोग कंजक पूजा करने के साथ उन्हें अलग-अलग तोहफे देते हैं। वैसे तो कोरोना को देखते हुए घर की कन्या व बालक के साथ आप कन्या पूजन कर सकते हैं। मगर आप फिर भी कन्याओं को घर बुलाने वाले हैं तो उन्हें सेफ्टी से जुड़े कुछ गिफ्ट दे सकती है। 

कन्याओं को दें सेफ्टी का उपहार 

कोरोना से बचने के लिए इस दौरान कन्याओं को हैंड सैनिटाइजर, मास्क, साबुन, हैंडवॉश आदि तोहफे में देना बेस्ट रहेगा। आप उन्हें घर पर खुद कपड़े से मास्क बना कर दे सकती है। 



पढ़ाई व स्टेशनरी का सामान

कोरोना के कारण स्कूल बंद होने से ऑनलाइन क्लासिस चल रही है। ऐसे में आप उनके किताब, कॉपी, पेंसिल आदि पढ़ाई व स्टेशनरी का सामान दे सकती है। इसके अलावा जरूरतमंद बच्चों को उनकी पढ़ाई से जुड़ी किताबें दें। 



लाल वस्त्र 

देवी दुर्गा को लाल रंग अतिप्रित है। ऐसे में कंजक पूजा के दिन कन्याओं के लाल रंग के वस्त्र दें। आप उन्हें लाल रंग की चुनरी या कोई पोशाक भेंट कर सकती है। इससे देवी मां की आप पर कृपा होने के साथ कुंडली में मंगल की स्थिति मजबूती होगी। 

फल देना होगा शुभ

कन्याओं को एक मौसमी फल जरूर दें। फलों को शुभता का प्रतीक माना जाता है। नवरात्रि में कन्याओं को विष्‍णुजी का प्रिय फल केला और मां लक्ष्‍मी का प्रिय फल नारियल देना शुभ रहेगा। मान्यता है कि दोनों का एक साथ दान करने से घर में सुख व समृद्धि बढ़ती है।


श्रृंगार का सामान

नवरात्रि में कन्या भोज करवाने के बाद उन्हें श्रृंगार का सामान दें। इसे पहले देवी मां को चढ़ाएं बाद में 2 से 7 साल के बीच की उम्र की कन्याओं में बांट दें। कहा जाता है कि कन्याओं को दी गई यह सामग्री सीधे माता रानी द्वारा स्वीकार की जाती है। 


No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company