देश

national

गौशाला के लिए नहीं हो रही फीडिंग वीडियो भादर

Wednesday, March 31, 2021

/ by Editor


संवाददाता- इंडेविन टाइम्स

भादर/अमेठी। 

०वोट की राजनीति के चलते ग्रामीणों को गुमराह कर रहे हैं ग्राम प्रधान प्रतिनिधि

०आचार संहिता लागू होने के कारण नहीं मिल सकती गौशाला -बीडीओ भादर

चुनावी माहौल में सियासत का पारा गर्म हो चुका है ।चुनाव लड़ने व वालों लड़ाने वाले जनप्रतिनिधि वोटरों को लुभाने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपना रहे हैं ।कहीं दारू की बोतल चटक रही हैं तो कहीं मुर्गे की पार्टी चल रही है। कहीं कहीं पर तो सेक्रेटरी भी आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करते हुए उल्टे सीधे बयान दे रहे हैं।जबकि आदर्श आचार संहिता प्रभावी होने के कारण कोई भी सरकारी योजनाएं पब्लिक को मुहैया नहीं कराई जाती है।

मामला विकासखंड भादर के कुरंग गांव का है ।जहां पर वोटरों को लुभाने के लिए शाम होते ही दारू की बोतलें चटकना स्टार्ट हो जाती हैं। प्रशासन सब कुछ जानते हुए भी अनजान बना हुआ है। चुनाव लड़ने वाले प्रतिनिधि वोटरों को लुभाने के लिए गौशाला अनुदान का फार्म भरवा रहे हैं ।वोटरों का ब्रेनवास जनप्रतिनिधियों द्वारा लगातार जारी है वह ग्रामीणों को तरह-तरह के प्रलोभन देकर मतदान की प्रक्रिया को पूरी तरह से प्रभावित करने में लगे हैं। कुरंग गांव के ग्रामीणों ने बताया कि गौशाला अनुदान के लिए सेक्रेटरी की मदद से फार्म भरा जा रहा है इस बारे में जब सेक्रेटरी सुरेंद्र कुमार गुप्ता से संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया गौशाला के लिए 24 फॉर्म भरे गए हैं जो पिछले 1 हफ्ते पहले भराए गए थे। वर्तमान में कोई भी फिडिंग नहीं की जा रही है।गौशाला अनुदान फार्म के बारे में जो वीडियो भादर से संपर्क किया गया तो बताया कि प्रदेश में आदर्श आचार संहिता प्रभावी है इस कारण कोई भी सरकारी अनुदान वाला फार्म नहीं भरा जा रहा है। इससे संबंधित जो भी फार्म भरे गए हैं केवल उन्हीं की कंप्यूटर में फीडिंग 1 सप्ताह आचार संहिता लागू होने के पहले हुई थी हमारे यहाँ बैक डेट की फीडिंग भी इस समय नही हो रही है।वर्तमान समय में गौशाला अनुदान के लिए कोई भी फार्म नहीं भरा या जा रहा है। यदि किसी भी जनप्रतिनिधि द्वारा ऐसा किया जा रहा है तो वह वोटरों को गुमराह कर रहा है। ग्रामीण ऐसी अफवाहों पर ध्यान ना दे यदि अफवाह फैलाने में किसी भी सरकारी कर्मचारी की संलिप्तता पाई जाती है तो उसके विरुद्ध विधिक कार्यवाही की जाएगी।

इसके अलावा भादर ब्लाक के रामगंज रायपुर, रामपुर, नरवहनपुर ,अग्रेसर, भागीपुर ,त्रिशुण्डी व अन्य गांवों  में भी शराब की बोतलों के माध्यम से वोटरों को लुभाने का प्रयास जारी है।  शराब के कैरट बोतलें शाम होते ही रामगंज ठेके से 20 से 30 वर्ष के नवयुवक लेकर शाम 7:00 बजे से ही गांव में बांटना स्टार्ट कर देते हैं जो आदर्श आचार संहिता की पूरी तरह से धज्जियां उड़ाने में जुटे हुए हैं। प्रशासन का इस तरफ ध्यान ना देना वाकई गंभीर मामला है ।यदि समय रहते प्रशासन द्वारा कोई भी वैधानिक कार्यवाही नहीं की जाती तो आने वाले चुनाव में मारपीट ,प्रताड़ना, दहशत,भय जैसी घटनाएं क्षेत्रों में देखने को मिल सकती हैं।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company