Responsive Ad Slot

देश

national

26 माह बाद UP लौटेगा माफिया मुख्तार

Monday, April 5, 2021

/ by Dr Pradeep Dwivedi

 इंडेविन न्यूज नेटवर्क

लखनऊ।



उत्तर प्रदेश का गैंगस्टर व मऊ से बसपा का बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी 26 महीने बाद अपने पुराने ठिकाने बांदा जेल वापस आ रहा है। 24 जनवरी 2019 से मुख्तार अंसारी पंजाब की रोपड़ जेल में बंद है। सूत्रों के मुताबिक उसका नया ठिकाना बैरक नंबर 15 या 16 होगा। मुख्तार को बांदा जेल लाने की जिम्मेदारी बसपा शासन में ताकतवर IPS रहे एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रेम प्रकाश (ADG प्रयागराज जोन) को सौंपी गई है। कानपुर जोन की जिम्मेदारी संभालते हुए उनके कार्यकाल में मुठभेड़ के बाद 67 अपराधियों को गिरफ्तार किया था।

तेजतर्रार और नियमों का सख्ती से पालन कराने वाले ADG प्रेम प्रकाश ने साल 2019 में CAA/NRC के दंगों के दौरान कानपुर में बड़ी जिम्मेदारी निभाई थी। एक बार फिर वे मुख्तार अंसारी को UP के बांदा जेल तक लाए जाने की जिम्मेदारी को लेकर चर्चा में हैं।

बीटेक करने के बाद पुलिस मैनेजमेंट में MD का कोर्स
मूलतः दिल्ली के रहने वाले प्रेम प्रकाश 1993 बैच के IPS अफसर हैं। B.tech करने के बाद पुलिस मैनेजमेंट में भी MD (मास्टर इन डिप्लोमा) का कोर्स कर चुके हैं। वे आगरा, मुरादाबाद, NCR समेत कई जिलों में कप्तान रह चुके हैं। इसके अलावा प्रेम प्रकाश ने 12 जुलाई 2009 को राजधानी लखनऊ में DIG/SSP का चार्ज संभाला था।

लखनऊ में डकैतों का हुआ था सफाया

लखनऊ में प्रेम प्रकाश की कप्तानी के दौरान प्रदेश कांग्रेस की तत्कालीन अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी का घर फूंकने व ठाकुरगंज इलाके में तिहरे हत्याकांड के साथ लाखों की डकैती हुई थी। पुलिस ने डकैत को मुठभेड़ में मार गिराने के साथ अन्य की धरपकड़ की थी। यहीं नहीं, प्रेम प्रकाश ने पुलिसकर्मियों को ड्यूटी पर मुस्तैद रखने के लिए उन्होंने थानों में घंटे टंगवाए और संतरी को जेल की तर्ज पर हर घंटे इन्हें बजाने का आदेश जारी किया था। रायफल कोने में रखकर सुस्ताने वाले पुलिसकर्मी घंटा बजाने की चिंता में सतर्क रहते थे, क्योंकि प्रेम प्रकाश खुद व उनके मुखबिर घंटे की आवाज सुनने को थानों के आसपास चक्कर काटते थे।

ADG L/O ने जारी किया मुख्तार अंसारी का क्राइम रिकॉर्ड
अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने मुख्तार अंसारी का क्राइम रिकॉर्ड जारी किया है। आंकड़ों के अनुसार, मुख्तार अंसारी पर उत्तर प्रदेश भर में 52 मुकदमे हैं। 15 विचाराधीन मुकदमों में मुख्तार को जल्द सजा दिलाए जाने का प्रयास जारी है। मुख्तार अंसारी के बिहार के सहाबुद्दीन गैंग से भी संपर्क में हैं। मुख्तार अंसारी और उसके गैंग की 192 करोड़ से ज्यादा की संपत्तियों के जब्तीकरण और ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की गई। मुख्तार गैंग की अवैध और बेनामी संपत्तियों का चिन्हीकरण लगातार जारी है। मुख्तार गैंग के अब तक 96 अभियुक्त गिरफ्तार किए जा चुके हैं। 75 गुर्गों पर गैंगेस्टर की कार्रवाई यूपी पुलिस ने की है। मुख्तार गैंग के 72 सहयोगियों के शस्त्र लाइसेंसों का निरस्तीकरण किया गया। मुख्तार गैंग से जुड़े 7 ठेकेदारों पर भी कार्रवाई की गई। फर्जी एंबुलेंस मामले में मुख्तार पर बाराबंकी में भी मुकदमा दर्ज हुआ है।

मुख्तार की पत्नी ने राष्ट्रपति से लगाई थी सुरक्षा की गुहार

मुख्तार अंसारी की पत्नी आफशां ने बीते बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को एक पत्र लिखा था। इसमें उन्होंने अपने पति मुख्तार को पंजाब से उत्तर प्रदेश लाने के दौरान उनकी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाने की गुहार लगाई थी। कहा था कि उनके पति एक मामले में चश्मदीद गवाह हैं, जिसमें भाजपा के विधान परिषद सदस्य माफिया बृजेश सिंह और त्रिभुवन सिंह अभियुक्त हैं। यह दोनों अभियुक्त सरकारी तंत्र की कथित मिलीभगत से अंसारी को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। लिहाजा इस बात का खतरा महसूस हो रहा है कि पंजाब की जेल से बांदा लाए जाते वक्त रास्ते में फर्जी मुठभेड़ की आड़ में अंसारी की हत्या की जा सकती है।

बांदा से 100 पुलिसकर्मी पंजाब रवाना

आज बांदा पुलिस लाइन से पुलिस की 20 गाड़ियों से टीम पंजाब के लिए रवाना हुई है। काफिले में बज्र वाहन और एंबुलेंस भी शामिल है। टीम में दो सीओ, दो इंस्पेक्टर, छह सब इंस्पेक्टर, 20 हेड कांस्टेबल, 30 कांस्टेबल और PAC जवानों समेत 100 पुलिसकर्मी शामिल हैं। पुलिसकर्मी बुलेटप्रूफ जैकेट व अन्य हाइटेक सुविधाओं के साथ रवाना हुए हैं। एम्बुलेंस में जिला अस्पताल के वरिष्ठ डॉक्टर एसडी त्रिपाठी के साथ स्वास्थ्य विभाग की टीम भी रवाना हुई है।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company