देश

national

लखनऊ विश्वविद्यालय प्रशासन ने जारी किए निर्देश, बिना अनुमति के छात्रावास के बाहर जाने पर लगी रोक

लखनऊ

राजधानी में बीते तीन दिनों से कोरोना संक्रमितों के आंकड़ें हजार के पार होते हुए नजर आ रहे हैं। नतीजन प्रदेश सरकार के विभागों के साथ सभी शिक्षण संस्थान कोरोना से बचाव के लिए अपने-अपने तरीके से नए-नए निर्देश जारी करते जा रहे हैं। इसी के चलते सोमवार को राजधानी के लखनऊ विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से छात्रावास में रहने वाले छात्र-छात्राओं के लिए कोरोना महामारी से बचाव और सुरक्षा की दृष्टि से नया फरमान जारी किया गया है।

घर जाने की होगी अनुमति
सोमवार को विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से जारी किए गए निर्देशों के मुताबिक, छात्रावास में रहने वाले छात्र और छात्राएं बिना प्रोवोस्ट की अनुमति के बाहर नहीं जा सकेंगे। विशेष परिस्थिति में बाहर जाने के साथ प्रशासन की ओर से घर जाने की अनुमति दी गई है। विश्वविद्यालय प्रशासन की मानें तो बीते दिनों में कई शिक्षकों के कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी सामने आ चुकी है, जिसमें से एक रिटायर्ड शिक्षक की कोरोना संक्रमण के चलते मृत्यु भी हो गई। जिसके बाद एहतियात बरतते हुए हॉस्टल में रह रहे छात्र-छात्राओं के लिए निर्देश जारी किए गए हैं।
लिखित रूप से लेनी होगी अनुमति
लखनऊ विश्वविद्यालय की चीफ प्रोवोस्ट प्रो. नलिनी पांडेय के अनुसार, परिसर में 17 छात्रावास हैं, जिनमें से 15 छात्रावास में वर्तमान समय में काफी संख्या में स्टूडेंट रुक कर शिक्षण कार्य कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि शहर में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों को देखते हुए छात्रावास में रहने वाले छात्र-छात्राओं को ऑफलाइन कक्षाएं शुरू होने तक घर पर रहने के लिए निर्देशित किया गया है। छात्रावास में रहने वाले छात्र-छात्राओं को साफ तौर पर बता दिया दिया गया है कि आपातकालीन स्थिति को छोड़ कर उन्हें किसी भी परिस्थिति में बाहर निकलने की अनुमति नहीं दी जाएगी। यदि किसी कारण वे बाहर या घर जाना चाहते हैं तो उसके लिए उन्हें संबंधित छात्रावास के प्रोवोस्ट से लिखित रूप से अनुमति लेनी होगी।

    No comments

    Post a Comment

    Don't Miss
    © all rights reserved
    Managed By-Indevin Group