Responsive Ad Slot

देश

national

लगातार दूसरी बार पिनरई विजयन बने केरल के मुख्यमंत्री , राज्यपाल ने दिलाई शपथ

Thursday, May 20, 2021

/ by Editor

 

तिरुवनंतपुरम।

गुरुवार को केरल में सादे शपथ ग्रहण समारोह में मुख्यमंत्री के रूप पिनरई विजयन ने शपथ ग्रहण की। राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने मुख्यमंत्री को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। शपथ ग्रहण समारोह केरल के सेंट्रल स्टेडियम में हुआ। आपको बता दें कि केरल विधानसभा चुनाव में दूसरी बार पी विजन के नेतृत्व में एलडीएफ की सरकार बनी है। कोरोना महामारी की वजह से शपथ ग्रहण को काफी साधारण रखा गया। शपथ ग्रहण समारोह में करीब 500 लोगों को ही आमंत्रित किया गया था। पी विजयन के अलावा राज्यपाल ने 20 अन्य मंत्रियों को भी शपथ दिलाई। शपथ ग्रहण समारोह में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया गया।

केरल में बारी-बारी से सरकार बदलने के करीब चार दशक पुराने चलन को तोड़ते हुए दोबारा सत्ता में आई पिनराई विजयन सरकार के 21 सदस्यीय मंत्रिमंडल में अधिकतर नये चेहरे और तीन महिला सदस्य शामिल हैं। नये मंत्रिमंडल में मुख्यमंत्री को छोड़कर पुराने चेहरों में केवल जेडीएस नेता के. कृष्णनकुट्टी तथा राकांपा नेता ए के शशींद्रन शामिल हैं जो पिछली सरकार में क्रमश: जल संसाधन मंत्री और परिवहन मंत्री थे। सत्तारूढ़ गठबंधन में प्रमुख साझेदार माकपा और भाकपा ने इस बार पिछली सरकार के किसी भी मंत्री को बरकरार नहीं रखने का फैसला किया। 

पिनराई विजयन ने दूसरी बार केरल के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली, मंत्रिमंडल में 20 मंत्री शामिल

केरल में छह अप्रैल को हुए विधानसभा चुनाव में वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) को एक बार फिर जीत दिलाने वाले माकपा नेता पिनराई विजयन ने बृहस्पतिवार को लगातार दूसरे कार्यकाल के लिए केरल के मुख्यमंत्री के रूप में 20 मंत्रियों के साथ शपथ ली। राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने यहां सेंट्रल स्टेडियम में आयोजित समारोह में 77 वर्षीय विजयन को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। समारोह में कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन किया गया था। विजयन को बधाई देते हुए, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘श्री पिनराई विजयन जी को मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने और दूसरा कार्यकाल शुरू करने पर बधाई।’’ मुख्यमंत्री समेत 15 मंत्रियों ने संविधान के नाम पर शपथ ली, वहीं पांच ने ईश्वर के नाम पर शपथ ली। इंडियन नेशनल लीग के कोटे से मंत्री बने अहमद देवरकोविल ने अल्लाह के नाम पर शपथ ली। राज्यपाल 3.30 बजे समारोह स्थल पर पहुंचे जिसके बाद समारोह शुरू हुआ और 4.50 बजे समाप्त हो गया। विपक्षी कांग्रेस नीत यूडीएफ के नेता कोविड-19 की वजह से समारोह में शामिल नहीं हुए।

शपथ-ग्रहण समारोह से पहले वरिष्ठ कांग्रेस नेता रमेश चेन्नितला ने विजयन को फोन कर बधाई दी। उन्होंने विजयन से कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनजर यूडीएफ के विधायक डिजिटल तरीके से समारोह को देखेंगे। केरल उच्च न्यायालय ने बुधवार को सरकार को निर्देश दिया था कि महामारी के मद्देनजर समारोह में सीमित संख्या में लोग भाग लें। समारोह में माकपा महासचिव सीताराम येचुरी, पार्टी के पोलित ब्यूरो के वरिष्ठ सदस्य, भाकपा के राज्य सचिव कणम राजेंद्रन और अनेक धार्मिक संगठनों के नेताओं ने भाग लिया। विधायकों के परिजनों और एलडीएफ के कार्यकर्ताओं ने भी अदालत के निर्देश के मद्देनजर टीवी पर ही समारोह देखा। समारोह में 54 गायकों की एक ऑनलाइन संगीत प्रस्तुति से उपस्थित महानुभावों का अभिनंदन किया गया। इसमें राज्य में अनेक वामपंथी सरकारों के दौरान केरल की उपलब्धियों को गिनाया गया। ‘नव केरल गीतांजलि’ नामक इस कार्यक्रम में के जे येशुदास, हरिहरण, शंकर महादेवन, अमजद अली खान, पी जयचंद्रन, के एस चित्रा और एम जी श्रीकुमार समेत जानेमाने गायकों ने भाग लिया। इस प्रस्तुति में संगीतकार ए आर रहमान और जानेमाने अभिनेता मोहन लाल की भी भूमिका रही।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company