Responsive Ad Slot

देश

national

नर्सेज डे पर मिशाल बनी पूनम मिश्रा

Wednesday, May 12, 2021

/ by Editor

 


हरिकेश यादव-संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)

अमेठी। 

कोरोना काल की इस भयावह त्रासदी में जब अपने सगे भी पास आने से कतराते है तब भी ऐसे मुश्किल हालात में सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र अमेठी में तैनात स्टाफ नर्स पूनम मिश्रा खुद सात माह की गर्भवती होने के बावजूद अपनी एक साल की छोटी बेटी को घर पर छोड़कर अस्पताल में आने वाले मरीजों की सेवा में अपनी ड्यूटी पूरी निष्ठा से कर रही है, नर्सेज डे पर पूनम मिश्रा जैसी प्रतिभाएं ही समाज के लिए एक मिशाल बनती है पूनम मिश्रा ने बताया कि कोरोना कल में भी परिवार और नौकरी करना काफी कठिन है ।उसके बाद भी लोगों की सेवा करना अहम है , अस्पताल से वापस घर जाकर पूरी सावधानी बरतते हुए पारिवारिक दायित्वों का निर्वहन किया ।इसी दौरान उनके पति भी कोराना पॉजिटिव हो गए फिर भी इन्होंने हिम्मत नहीं हारी अपने पति को चिकित्सको की सलाह पर होम आइसोलेट करते हुए उनका ट्रीटमेंट किया, और पूरी तरह स्वस्थ हों गए ।उनकी इसी प्रतिभा को देखते हुए कहा गया है कि मातृशक्ति हर मुश्किल हालात में अपनी ड्यूटी और अपने पारिवारिक दायित्वों का निर्वहन करने में पीछे नहीं हटती। उन्होने बताया कि गर्भवती महिलाओं का पंजीकरण गैर संचारी रोगो की जांच सहित गर्भवती महिलाओं की प्रसव जैसे कार्य सर्वोपरि रहता है। उन्होने बताया कि कोरोना संक्रमित व्यक्ति के खांसने या छींकने से निकलने वाली बूंदों के संपर्क में आने से दूसरा व्यक्ति भी संक्रमण का शिकार हो सकता है । कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए साबुन-पानी से 20 सेकंड तक बार-बार हाथ धोने या अल्कोहल युक्त सैनीटाइजर से साफ करने, एक दूसरे से कम से कम दो गज (6 फुट) की दूरी बनाये रखने, मास्क का इस्तेमाल करने और अगर बुखार,खांसी और सांस लेने में कठिनाई हो तो चिकित्सक से सलाह लेने और दिशा-निर्देशों का पालन करने को कहा जा रहा है । खांसने या छींकने पर अपने मुंह और नाक को अपनी मुड़ी हुई कोहनी या कपड़े से ढकें, रोग प्रतिरोधक क्षमता बनाये रखने के लिए पोषक आहार का सेवन करें, उचित वायु संचार बनाये रखें और यदि दो हफ्ते से ज्यादा खांसी हो तो टीबी की जाँच कराएँ । स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय इसीलिए कोरोना की जद में आने से बचने के बारे में बराबर जागरूक कर रहा है क्योंकि जिनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है और कोरोना ऐसे ही लोगों को सबसे पहले अपनी चपेट में लेता है।उन्होने बताया कि खांसने और छींकने से संपर्क में आने से दोनों के फैलने का खतरा है । इसलिए हम अगर मास्क लगाते हैं तो वह कोरोना से हमारी रक्षा करने से बचाएगा ।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company