देश

national

समाज में चेतना के बिना जन कल्याण सम्भव नहीं - राम किशोर शास्त्री

  

हरिकेश यादव-संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)

अमेठी। 

समाज में एकता के लिए चेतना लानी होगी। इसके समाज के जिम्मेदार लोगों को आगे आना होगा। सरकार भी अपनी जिम्मेदारी लोगों पर छोड़ देती है। लेकिन जागरूकता के अभाव में जन कल्याण कार्यक्रम समय से लक्ष्य पूरा नहीं कर पा रहे हैं। 

जिले के बिकास खण्ड भेटुआ के गांव पूरे जिवधर में विश्व पर्यावरण दिवस पर संगोष्ठी का आयोजन शनिवार को आयोजित किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि इलाहाबाद विश्वविद्यालय इलाहाबाद प्रोफेसर एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता राम किशोर शास्त्री ने कहा कि पदूषण को रोकने के लिए बृक्षारोपण जरूरी है। पानी, हवा, भूमि, ध्वनि आदि पदूषण के चपेट में है। इससे पूरी दुनिया परेशान हैं। 

उन्होंने कहा कि पर्यावरण संरक्षण बहुत जरूरी है। इसके लिए लोगों को जागरूक करने के लिए तैयार होना होगा। जिम्मेदारी लोगों को समझना होगा। वृक्षों का कटान जोरों पर है। इसे रोकने की कोशिश की जानी चाहिए।तालाब, पोखरो, नदी, नालों में जल संरक्षण की जरूरत है। ईट,उद्योग, रेल, बस के प्रदूषित वायु को रोकने की जरूरत है। सोलर एनर्जी पावर को बढावा देना होगा। भूमि कटान जोरों पर है। इसे बृक्षारोपण और मेडबंदी से रोका जा सकता है। सरकार की योजनाएं बिन जनता के जुडाव के पूरी समय से नही हो रही है। पुराने बाग का जीर्णोद्धार नहीं हो रहा है। 

कार्यक्रम में बृह्म प्रकाश शुक्ल, हिमांशु शुक्ल, संजय कुमार तिवारी, योगेंद्र मिश्र, विश्वनाथ मिश्र, शिवम पाण्डेय, प्रधान राधिका प्रसाद मिश्र आदि कार्यक्रम को संबोधित किया।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group