Responsive Ad Slot

देश

national

भेटुआ से आकर्ष शुक्ल बने ब्लॉक प्रमुख

Sunday, July 11, 2021

/ by Editor

हरिकेश यादव-संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)

अमेठी। 

जिलें के बहुचर्चित क्षेत्र पंचायत समिति भेटुआ प्रमुख पद का चुनाव संपन्न हुआ। जिसमें 4 प्रत्याशियों ने नामांकन पत्र दाखिल किये। जिसमें प्रमुख पद की प्रत्याशी मीना सिंह पत्नी विनोद सिंह (शहरी) का नामांकनपत्र अभिलेखों में श्रृटि के कारण निरस्त हो गया। वही चुनाव समर में भाजपा नेता सचेन्द्र सिंह उर्फ राजू सिंह पुत्र हरीनाम सिंह (भेटुआ), भाजपानेत्री रेनू सिंह पत्नी शेर बहादुर सिंह (शिवगढ़ जलालपुर), भाजपा युवा नेता आकर्ष शुक्ल पुत्र पूर्वमंत्री भाजपा आशीष शुक्ल (भेटुआ) तीन प्रत्याशियों के बीच में चुनावी टक्कर हुई ।जहां पर सचेन्द्र सिंह को भारतीय जनता पार्टी अपना अधिकृत प्रत्याशी करार दिया था और रेनू सिंह को स्थानीय विधायक अमेठी गरिमा सिंह का बरदहस्थ रहा। तो वही पूर्वमंत्री आशीष शुक्ला के पुत्र आकर्ष शुक्ल चुनावी संग्राम में विपक्ष के प्रत्याशियों को मुंहतोड़ जबाव दिया और पूर्वमंत्री चुनाव के सारथी रहे ।लेकिन कमान भाजपा युवा नेता आकर्ष शुक्ला के हाथ में रही। 

प्रमुख पद के प्रत्याशी नामांकन के पहले आकर्ष शुक्ल ने मीडिया से रुबरु होकर विपक्षी उम्मीदवार पुलिस के संरक्षण में मतदाताओं को धमकाना तथा परिजनों को अपने पक्ष में मतदान करने के लिए भाजपा के नामची नेता का उपयोग कर रहे है। नामांकन के दौरान ब्लाक मुख्यालय पर हंगामा कर नामांकन प्रभावित करने की बात कही।  मामले की गंभीरता को भांपते ही प्रशासन ने सुरक्षा की व्यवस्था की। नामांकन शांतिपूर्ण होने पर प्रत्याशी आकर्ष शुक्ल ने मीडिया और प्रशासन को धन्यवाद ज्ञापित किया। 

प्रमुख पद के प्रत्याशी आकर्ष शुक्ल 9 जुलाई को जिलाधिकारी पुलिस अधीक्षक और  उत्तर प्रदेश निवार्चन आयोग को शिकायती पत्र भेजा कि बीडीसी मतदाताओं के धमकाया जा रहा है। परिजनों को फर्जी मुकदमें में फसाने की साजिश रची जा रही है। निष्पक्ष मतदान के लिए बीडीसी सदस्यों को घर से पोलिंग बूथ तक पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था मुहैया करवायी जाय।  मीडिया से प्रमुख प्रत्याशी आकर्ष शुक्ल रुबरु हुए। जिसके चलते रात्रि के दौरान क्षेत्र पंचायत सदस्य अनिल कुमार यादव पुत्र रंजीत कुमार यादव पिण्डोरिया को जबरन शहरी निवासी मीना सिंह के पति विनोद सिंह ने जबरिया घर से उठा लाए। परिजनों ने शिकायत को पुलिस के नाम वायरल किया ।जिसके चलते क्षेत्र पंचायत समिति भेटुआ में शनिवार को पुलिस ने मतदान स्थल को छावनी में तबदील कर दिया ।आधा दर्जन थानों की पुलिस चुनाव की सुरक्षा में लगी रही पुलिस उपाधीक्षक अर्पित कपूर कड़ी धूप में जमकर कदमताल किया और उन्होने प्रशासन को सजग करने के लिए माइक पर अनुशासन का पाठ सुरक्षा बलों को पढाते रहे। 

मतदान बारह बजे के आस-पास उफान पर आया तो जोनल मजिस्ट्रेट आशुतोष कुमार ने बीडीसी मतदाताओं को लाइन में कतार लगवाई और सबके क्षेत्र पंचायत सदस्य के प्रमाणपत्र का सत्यापन ,आधार कार्ड का सत्यापन तथा मतदाता सूची में नाम का मिलान करने के बाद अंदर जाने का फरमान जारी किया ।वोट देने के बाद पोलिंग से बाहर का रास्ता दिखाने में कोई गुरेज नही किया। मीडिया ने भी मतदाताओं की वीडियोग्राफी और फोटो खीचने में कोताही नही की। मीडिया की पहरेदारी ने मतदान को निष्पक्ष और पारदर्शी लगाने में चारचांद लगा दिया। 

भाजपा समर्थित प्रत्याशी सचेन्द्र सिंह उर्फ राजू सिंह करीब एक बजे ब्लाक मुख्यालय आधा दर्जन बीडीसी सदस्यों के साथ पहुंचे और जोनल मजिस्ट्रेट को जानकारी दी कि मैं भाजपा समर्थित कंडीडेट हूॅ। मुझे पोलिंग बूथ पर प्रवेश करने की इजाजत दी जाय। प्रशासन ने पडताल की और अंदर जाने दिया ।दो बजकर बीस मिनट पर 50 मतदाताओं ने मतदान कर चुनाव को अंतिम पढाव पर पहुचाया। तीन बजे मतगणना शुरु हुई ।जिसमें आकर्ष शुक्ल को 27 मत, रेनू सिंह को 22 मत, सचेन्द्र सिंह को कोई मत नही मिला ।जबकि एक मत अबैध पाया गया 5 मतो से भाजपा युवा नेता आकर्ष शुक्ल को प्रमुख पद पर निर्वाचित होने का प्रमाणपत्र प्रशासन ने सौपा। इसके बाद पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह ने आस-पास जमे लोगों को अपने-अपने घर जाने के लिए बात कही। पुलिस कडी मसक्कत के बाद लोगों को शांतिपूर्वक घर की तरफ रवाना किया।

प्रमुख पद भेटुआ में निर्वाचित आकर्ष शुक्ल ने कहा कि विकास के लिए सदैव तत्पर रहूंगा यह मैं नही बोल रहा हूॅ मेरा काम बोलेगा। यह कहते हुए अपने समर्थक के बीच निकल पडे। युवाओं की टोली नारेबाजी करते हुए अपने-अपने प्रत्याशियों के साथ घर रवाना हुए।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company