Responsive Ad Slot

देश

national

दिल्ली: किसानों पर पुलिस अलर्ट, कभी भी बंद कराए जा सकते हैं ये 7 मेट्रो स्टेशन

Monday, July 19, 2021

/ by Editor

नई दिल्ली

आज से शुरू हो रहे संसद के मॉनसून सत्र के दौरान किसान संगठनों ने अपने आंदोलन को फिर से तेज करने का ऐलान कर दिया है। किसान संगठनों का कहना है कि सत्र खत्म होने तक उनके 200 प्रतिनिधि रोज नई दिल्ली में इकट्ठा होंगे और संसद का घेराव करेंगे। इसे देखते हुए दिल्ली पुलिस हाई अलर्ट पर है। एक तरफ पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी किसान संगठनों को सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए कार्यक्रम में बदलाव के लिए उन्हें मनाने की कोशिश कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ नई दिल्ली में सुरक्षा के भी कड़े इंतजाम किए जा रहे हैं। संसद भवन के आसपास कहीं पर भी ज्यादा लोग जमा न हो पाएं, इसके लिए इंतजाम किए जा रहे हैं।

नई दिल्ली जिले के डीसीपी दीपक यादव के अनुरोध पर डीसीपी (मेट्रो) जितेंद्र मणि ने दिल्ली मेट्रो के चीफ सिक्योरिटी कमिश्नर को एक पत्र लिखकर कहा है कि सुरक्षा कारणों के चलते संसद सत्र के दौरान नई दिल्ली इलाके में सभी मेट्रो स्टेशनों को बेहद शॉर्ट नोटिस पर किसी भी वक्त बंद कराने की जरूरत पड़ सकती है। इसे देखते हुए वे भी अपनी तरफ से सभी जरूरी इंतजाम करें और अपने स्टाफ को अलर्ट पर रखें। डीसीपी ने लेटर में 7 मेट्रो स्टेशनों, जनपथ, लोक कल्याण मार्ग, पटेल चौक, राजीव चौक, केंद्रीय सचिवालय, मंडी हाउस और उद्योग भवन का जिक्र किया है। हालांकि सूत्रों का कहना है कि जरूरत पड़ी तो बारखंभा रोड, प्रगति मैदान/ सुप्रीम कोर्ट, आईटीओ, खान मार्केट, शिवाजी स्टेडियम जैसे मेट्रो स्टेशन भी बंद कराए जा सकते हैं।

दिल्ली पुलिस की तरफ से यह भी कहा गया है कि कानून व्यवस्था को देखते हुए तुरंत कुछ फैसले लेने पड़ सकते हैं। इसलिए डीएमआरसी किसी एक ऐसे सक्षम अधिकारी को भी तैनात करे, जो पुलिस से निर्देश मिलते ही इन मेट्रो स्टेशनों को बंद करवा सके। मेट्रो के डीसीपी जितेंद्र मणि ने बताया कि इस दौरान सभी मेट्रो स्टेशनों पर सुरक्षा के भी विशेष इंतजाम किए जाएंगे। इस बारे में सीआईएसएफ को भी अलर्ट कर दिया गया है। उन्होंने यह भी साफ कर दिया है कि अभी मेट्रो स्टेशनों को अभी बंद नहीं कराया जा रहा है। जरूरत पड़ने पर ऐसा किया जाएगा।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company