Responsive Ad Slot

देश

national

बाल स्वास्थ्य पोषण माह में 313717 लाख बच्चों को विटामिन “ए” पिलाने का लक्ष्य

Wednesday, July 28, 2021

/ by Editor

हरिकेश यादव-संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)

अमेठी।  

जनपद में बाल स्वास्थ्य पोषण माह शुरू हो गया है जो एक माह तक चलेगा | इस अभियान के दौरान नौ  माह से पांच  वर्ष तक की आयु के बच्चों की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए विटामिन - ए की खुराक  दी जाएगी क्योंकि यह उनके लिए अत्यंत आवश्यक है | यह जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं नोडल टीकाकरण डा. सी एस अग्रवाल ने दी | उन्होंने बताया कि ग्राम स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस (वीएचएनडी)  के माध्यम से विटामिन - ए की खुराक बच्चों को एक सुनिश्चित योजना के अनुसार दी जायेगी | इस बार अभियान में तीन लाख तेरह हजार सात सौ सत्रह बच्चों को दवा पिलाने का लक्ष्य  है, जिसमें 6 माह से 12  माह के कुल 18288  बच्चे, एक से दो  साल के कुल  78801  लाख बच्चे तथा दो से पांच  साल के लगभग 216628 लाख बच्चे हैं |  विभाग के पास  विटामिन- ए दवा की समुचित मात्रा उपलब्ध है | आशा कार्यकर्ता एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एक सुनिश्चित कार्य योजना बनाकर बच्चों की ड्यूलिस्ट तैयार करेंगी | 

 कोरोना से बचाव में रोग प्रतिरोधक क्षमता महत्वपूर्ण है | नौ  माह से पांच  वर्ष तक के बच्चों को विटामिन ए की नौ  खुराक दिये जाने से उनकी प्रतिरोधक क्षमता में बढ़ोत्तरी होती   है | 9 से 12 माह के बच्चों को 1 मिली मीजल्स एवं रूबेला के पहले टीकाकरण  के दौरान , 16  से 24 माह के बच्चों को 2 मिली मीजल्स एवं रूबेला के दूसरे  टीके के साथ नियमित  टीकाकरण सत्र के दौरान, 2 साल से 5 साल के बच्चों को 2 मिली 6-6 माह के अन्तराल पर बाल स्वास्थ्य पोषण माह के दौरान दी जाती है | 

जिला स्वास्थ्य शिक्षा  एवं सूचना अधिकारी शालू गुप्ता ने बताया  कि विटामिन ए की कमी से बच्चों में अंधापन हो जाता है जिसे रोका जा सकता है | 

विटामिन ए एक शिशु सुरक्षा कवच है | यह वसा में घुलनशील  है | विटामिन ए के सेवन से  शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता में वृद्धि होती  है, रतौंधी से बचाव, कॉर्निया की सुरक्षा होती है, दस्त एवं सांस सम्बन्धी रोगों से बचाव होता है एवं कुपोषण में कमी होती है | साथ ही यह  शारीरिक विकास में भी सहायक होता है | 

अभियान कोविड से बचाव के प्रोटोकॉल्स के साथ किया जाएगा | हर सत्र पर एएनएम के पास सेनिटाईजर रखना आवश्यक होगा | बच्चों को दी जाने वाली विटामिन ए की मात्रा का निर्धारण विटामिन ए की दवा के साथ दी जाने वाली चम्मच से होगा जिसमें 1 मिली व 2 मिली का निशान बना होगा | एक बोतल खत्म होने के बाद ही दूसरी बोतल खोली जाएगी और बोतल खोलने के बाद उस पर तारीख़ जरूर लिखना है |

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company