देश

national

सुप्रसिद्ध समाजसेवी हाजी शाहिद "तुल्ला वाले" बिजनौर से हो सकते हैं बसपा प्रत्याशी

Thursday, August 12, 2021

/ by इंडेविन टाइम्स

o साल भर में कराते हैं कम से कम पांच सौ गरीब लड़कियों की शादी। 

o नेक काम मान कर प्रचार से रहते हैं कोसों दूर। 

संयज सक्सेना 

बिजनौर। 

आगामी विधानसभा चुनाव में हापुड़ निवासी प्रसिद्ध समाजसेवी हाजी शाहिद "तुल्ला वाले" बिजनौर से चुनाव लड़ सकते हैं! ...और वह भी बहुजन समाज पार्टी से। ऐसा सूत्रों का दावा है। दरअसल हापुड़ निवासी हाजी शाहिद "तुल्ला वाले"  अपने जनपद के अलावा आसपास के क्षेत्र के बहुत बड़े समाजसेवियों में शुमार हैं। विश्वसनीय सूत्रों का कहना है कि हाजी शाहिद "तुल्ला वाले" गरीब लड़कियों की शादी कराते हैं। साल भर में वह कम से कम पांच सौ गरीब लड़कियों की शादी कराते हैं और इस नेक काम के बावजूद प्रचार से कोसों दूर। यही नहीं, जहां आज के दौर में किसी भी पार्टी का छोटा सा नेता अस्पताल में भर्ती किसी मरीज को दो केले भी देता है, तो अखबारों में बड़ी फ़ोटो और खबर छपवाने को लालायित रहता है। इसके बिल्कुल विपरीत प्रत्येक गरीब लड़की की शादी में ₹एक लाख देने वाले हाजी शाहिद "तुल्ला वाले" को प्रचार से सख्त नफरत है। वह कहते हैं कि ऊपर वाले ने जिंदगी दी है तो उसका नेक काम में उपयोग करना चाहिए। 

राजनैतिक सफर

14वीं विधानसभा के लिए वर्ष 2002 में उन्होंने बीएसपी के टिकट पर चुनाव लड़ा। इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के महेंद्र सिंह यादव को जीत हासिल हुई थी। हाजी शाहिद 31882 वोट हासिल कर दूसरे स्थान पर रहे। आंकड़ों के अनुसार उन्हें मात्र 4752 वोट से पराजय का सामना करना पड़ा। भारतीय जनता पार्टी के महेंद्र सिंह यादव ने 36634 वोट हासिल कर सीट पर कब्जा जमाया था। अमरोहा से भी उन्हें लोकसभा चुनाव में बीएसपी से टिकट हुआ और किन्हीं कारणों से अचानक मेरठ से लड़ने को कहा गया। उन्होंने मना कर दिया। मुंबई के अलावा कोलकाता सहित कई बड़े शहरों में उनका कंस्ट्रक्शन का कार्य है। यह भी पता चला है कि बसपा सुप्रीमो बहन मायावती से उनकी इस मसले को लेकर मुलाकात हो चुकी है।

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group