देश

national

यूपी: शामली की पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट, तीन की दर्दनाक मौत

Friday, October 1, 2021

/ by Editor

शामली 

जिले के कैराना में अवैध रूप से चलाई जा रही एक बारूद की फैक्ट्री में विस्फोट के बाद तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि आधा दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। विस्फोट की घटना के घंटों बाद भी अधिकारी मृतकों की संख्या का सही अनुमान नहीं लगा पा रहे हैं। कई टीमें रेस्क्यू अभियान में जुटी हुई हैं। दरअसल, दीपावली के मद्देनजर शामली जिले में कई स्थानों पर अवैध रूप से विस्फोटक पटाखे तैयार करने की फैक्ट्रियां शुरू हो गई हैं। डीएम शामली जसजीत कौर के मुताबिक जिले के कैराना कस्बे के कानपुर रोड़ पर ऐसी ही एक फैक्ट्री का संचालन हो रहा था, जिसमें अवैध रूप से विस्फोटक पटाखे तैयार किए जा रहे थे। इस फैक्ट्री में शुक्रवार की शाम अचानक विस्फोट हो गया। विस्फोट की चपेट में आने से कई मजदूर झुलस गए, जबकि मौके पर दिखाई दिए शवों के मुताबिक घटनास्थल पर काम कर रहे तीन मजदूरों की मौत हो गई। घटना के बाद पांच मजदूरों को गंभीर हालत में सीएचसी कैराना पर भेजा गया, जिनमें से तीन की हालत बेहद ही चिंताजनक बताई जा रही है।

अवैध रूप से चलाई जा रही पटाखा फैक्ट्री कैराना के कानपुर रोड पर संचालित की जा रही थी। अभी तक की जांच पड़ताल में सामने आया है कि यह अवैध विस्फोटक की फैक्ट्री राशिद नाम का शख्स चला रहा था, जिसके बारे में पुलिस की टीमें पड़ताल कर रही है. घायल मजदूरों के मुताबिक रोजाना इस फैक्ट्री में करीब 21 मजदूर पटाखों का निर्माण करने का काम करते थे, जबकि शुक्रवार को फैक्ट्री में कुल 11 मजदूर मौजूद थे। अभी तक फैक्ट्री में बिखरे मलबे से तीन शव बरामद हुए हैं। पुलिस और प्रशासनिक टीमें रेस्क्यू अभियान चला रही है। मृतकों की संख्या बढ़ने का भी अनुमान लगाया जा रहा है।

विस्फोट के बाद अलर्ट हुई खुफिया यूनिट
कैराना में धमाके बाद खुफिया विभाग की टीमें भी कैराना में पहुंच रही है. पटाखा फैक्ट्री में हुआ विस्फोट इतना भयंकर था कि उसकी गूंज कई मील तक सुनाई दी। इतना ही नही फैक्ट्री की दीवारें और लिंटर भी विस्फोट से उड़ गई। हाई लेवल का विस्फोट होने के बाद खुफिया विभाग की टीमें इस बात की पड़ताल कर रही है कि विस्फोट कैसे और क्यों हुआ। फैक्ट्री में विस्फोटक बनाने में किन—किन चीजों का इस्तेमाल किया जा रहा था, और विस्फोटक कैराना में कैसे पहुंचा। फिलहाल प्रशासनिक अधिकारियों के मुताबिक यह फैक्ट्री अवैध रूप से चलाई जा रही थी, जिसका कोई लाइसेंस होने से डीएम शामली ने भी इंकार किया है।

रेस्क्यू ऑपरेशन जारी 
डीएम शामली जसजीत कौर और एसपी सुकीर्ति माधव ने भी विस्फोट के बाद घटनास्थल पर पहुंचकर रेस्क्यू अभियान की बागडोर संभालते हुए घायलों के लिए त्वरित उपचार की व्यवस्था सुनिश्चित कराई। डीएम ने बताया कि फिलहाल मौके पर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है। अभी तक मृतकों की संख्या का सही अनुमान नही लगाया गया है। फिलहाल तीन डेड बॉडी घटनास्थल से अस्पताल भिजवाई गई है, जबकि अन्य घायलों का उपचार भी कराया जा रहा है।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company