देश

national

देश में ओमिक्रॉन ने पकड़ी रफ्तार, मामले हुए 300 के पार

Thursday, December 23, 2021

/ by इंडेविन टाइम्स

नई दिल्ली। 

दुनियाभर में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे है। देश में ओमिक्रॉन के मामले 300 के पार हो चुके हैं। खबरों के मुताबिक, “देश में कोविड के नए वैरिएंट के मामले 311 हो चुके हैं, इनमें सबसे अधिक मामले दिल्ली, महाष्ट्र, कर्नाटक, केरल से आए हैं। वहीं, देश के 17 राज्यों में यह वैरिएंट पहुंच चुका है।

वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ एक बैठक बुलाई है जिसमें कोविड संक्रमण की ताजा स्थिति की समीक्षा और संभावित परिस्थितियों से निपटने के तौर-तरीकों पर विचार विमर्श किये जाने की आशा है। सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री की यह क्रिस्मस और नववर्ष के अवसर पर होने वाले समारोहों को देखते हुए महत्वपूर्ण है क्योंकि ऐसे मौके पर सार्वजनिक स्थानों और बाजारों में भीड़ भाड़ बढ़ जाती है और संक्रमण में वृद्धि होने की आशंका है।

डाक्टरों के अनुसार कोविड के नए संस्करण ओमिक्रॉन का संक्रमण पुराने डेल्टा के तुलना में तीन गुना अधिक तेजी से फैलता है। विशेषज्ञों का कहना है कि भारत में यदि विदेशों की तर्ज पर ओमिक्रॉन का संक्रमण फैला तो चिकित्सा सुविधाओं पर भारी दवाब पड़ेगा। एक अध्ययन के मुताबिक भारत में अगर फ्रांस और ब्रिटेन की तर्ज पर संक्रमण फैलता है तो प्रतिदिन 15 लाख तक व्यक्ति संक्रमित हो सकते हैं।

केंद्र ने राज्यों को दी सलाह

केंद्र ने भारत में कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप के मामलों में लगातार वृद्धि के मद्देनजर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सतर्क रहने और मामले की सकारात्मकता, दोहरीकरण दर और नए मामलों के समूह की निगरानी करने और क्रिसमस तथा नए साल से पहले स्थानीय स्तर पर प्रतिबंध लगाने पर विचार करने की सलाह दी गई है।

मध्य प्रदेश में लगा नाइट कर्फ्यू

कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमीक्रोन को लेकर मध्य प्रदेश में नई गाइडलाइन जारी की गई है। पड़ोसी राज्यों में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने मास्क को लेकर सख्ती बढ़ा दी है। मध्य प्रदेश में आज से नाइट कर्फ्यू लगाया जाएगा। यह कर्फ्यू रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक लगेगा। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने अपील करते हुए बताया कि कोरोना गाइडलाइन का पालन करें। मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। आप सब सहयोग करें ताकि कोरोना की तीसरी लहर आने से बचा सकें। 

डिप्टी सीएम ने मास्क लगाने को कहा

महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने कहा कि विधानसभा के वर्तमान शीतकालीन सत्र के दौरान कुछ विधायक मास्क नहीं लगा रहे हैं। उन्होंने सदन में कहा कि कोरोना वायरस के नए स्वरूप को देखते हुए चीजों को गंभीरता से लिया जाना चाहिए। पवार ने कहा, “कुछ विधायकों को छोड़ दें तो बहुत से लोग मास्क नहीं लगा रहे हैं। अगर मैं भी मास्क नहीं लगाऊं तो मुझे बाहर फेंक दीजिए। यहां जो कुछ भी हो रहा है उसे पूरा महाराष्ट्र देख रहा है लेकिन कम से कम बोलने के बाद मास्क लगा लेना चाहिए।” उप मुख्यमंत्री ने कहा कि वायरस का नया प्रकार (ओमीक्रोन) सामने आने के बाद से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महामारी पर गंभीरता से विचार कर रहे हैं तथा रात्रि कर्फ्यू लगाने पर भी सबसे ऊंचे स्तर पर चर्चा हो रही है।   

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group