देश

national

मेरठ-दिल्ली एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन आज, केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी करेंगे शुभारंभ

Thursday, December 23, 2021

/ by इंडेविन टाइम्स

मेरठ। 

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी 23 दिसंबर को दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करेंगे। इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री मेरठ और आसपास की करीब ढाई हजार करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास भी करेंगे। मुख्य आयोजन सुभारती यूनिवर्सिटी के खेल मैदान में होगा।

शुभारंभ समारोह में डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और सांसद वीके सिंह भी शामिल होंगे। एक्सप्रेस-वे को सजाया गया है। बताया जा रहा है कि केंद्रीय मंत्री गाजियाबाद डासना से कार में एक्सप्रेस-वे का सफर तय करते हुए मेरठ पहुंचेंगे। मेरठ में सभा को सुभारती यूनिवर्सिटी में संबोधित करेंगे।

पर्यटन, उद्योग, विकास और रोजगार बढ़ेगा

मेरठ से दिल्ली के बीच बने इस एक्सप्रेस-वे पश्चिमी यूपी को पर्यटन, उद्योग और रोजगार कks नई दिशा मिली है। नौकरी, पढ़ाई और कारोबार के सिलसिले में रोजाना एक लाख से अधिक लोग मेरठ से हर रोज दिल्ली जाते हैं। जिन्हें अब तक रोजाना घंटों जाम और मुसीबत झेलना पड़ती थी। लेकिन एक्सप्रेस वे बनने से उनकी परेशानी दूर हुई है। वहीं मेरठ के उद्योग को भी इससे बूम मिलेगा। अच्छी सड़क न होने और कनेक्टिविटी के अभाव के कारण कई कंपनियां मेरठ में आकर कारोबार करने का मन बदल लेती थीं। अब वो संभव हो सकेगा। मेरठ व आसपास के जिलों में ऐतिहासिक, पौराणिक स्थलों पर पर्यटन भी बढ़ेगा।

आर्थिक राजधानी से घटी वेस्ट यूपी की दूरी

90 किमी लंबा दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे दिल्ली से डासना तक 14 लेन और डासना से मेरठ तक 6 लेन एक्सप्रेस वे है। इसके बनने से दिल्ली से मेरठ के बीच की दूरी महज 45 मिनट में पूरी हो जाती है। पश्चिमी यूपी के लोगों को पहले दिल्ली जाने में अक्सर जाम से घंटों जूझना पड़ता था। चार से पांच घंटे का समय दिल्ली की दूरी नापने में लगता था। लेकिन इस एक्सप्रेस वे के बनने से महज 45 मिनट में मेरठ से दिल्ली पहुंचते हैं। पीएम मोदी ने 31 दिसंबर 2015 को इसका शुभारंभ किया था। 7,855.87 करोड़ बजट तय हुआ है।

भारत का सबसे चौड़ा राजमार्ग प्रोजेक्ट

एनएचएआई के अनुसार, सरकार इस एक्सप्रेस-वे को देश का सबसे चौड़ा राजमार्ग बनाने का प्लान लेकर चल रही है। इस हाईवे पर 14 लेन के अलावा 2.5 मीटर का साइकिल ट्रैक भी होगा।देश के सबसे चौड़े इस सड़क पर बीच में 6 लेन का एक्सप्रेस वे होगा और दोनों तरफ 4 लेन के हाईवे होंगे ताकि शहर के ट्रैफिक को बाहर से आने जाने वाले ट्रैफिक से अलग किया जा सके। इस एक्सप्रेस वे का पहला चरण करीब नौ किलोमीटर का है। जिसमें यमुना पुल पर वर्टिकल गार्डन और सड़कों पर सोलर लाइट भी हैं। सड़क के किनारे 40,000 पौधे भी लगाने की योजना है। डासना से मेरठ आने के पूर्व एक्सप्रेस- वे दो शाखाओं में बंट जाएगा। एक शाखा जुर्रानपुर- हापुड़ रोड की तरफ निकल जाएगी। जबकि दूसरी शाखा भूड़बराल के पास नौ किमी की होगी। यह भी छह लेन का होगा। बाद में 14 लेन तक के विस्तार का विकल्प रखा जाएगा।

इन परियोजनाओं का होगा शिलान्यास

केंद्रीय मंत्री मेरठ में राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का लोकार्पण शिलान्यास करेंगे। राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 235 (334) स्थित हापुड़ अड्डा चौराहा से बिजली बंबा चौराहा तक 6 लेन हाईवे निर्माण का शुभारंभ करेंगे। जिसकी लंबाई 4.469 किमी और कुल लागत 4492.35 लाख है। इसके साथ ही मेरठ शहर में राष्ट्रीय राजमार्ग 119 को राष्ट्रीय राजमार्ग 58 से जोड़ने के लिए 13.4 किमी लंबे 4-लेन न्यू बाईपास कार्य का भी शुभारंभ करेंगे। जिसकी कुल लबाई 13.4 किमी है। लागत 992 करोड़ है।

एनएच-119 पर नजीबाबाद शहर के लिए 10.50 किमी लंबे 4-लेन नजीबाबाद बाइपास के निर्माण कार्य का भी शिलान्यास होगा। इसकी कुल लागत 568 करोड़ है। एनएचएआई के परियोजना निदेशक एसके मिश्रा के बताया कि मेरठ-मुजफ्फरनगर एनएच-58 के अतिरिक्त कार्य, शामली में आठ किलोमीटर के रिंग रोड और पुरकाजी-लक्सर-हरिद्वार 15 किलोमीटर हाईवे का भी लोकार्पण, शिलान्यास होगा। मेरठ में इसके साथ न्यू बाइपास निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group