देश

national

मेजर ध्यानचंद खेल विश्वविद्यालय की सौगात, प्रदेश सरकार युवाओं के साथ

Wednesday, January 5, 2022

/ by Editor

हरिकेश यादव-संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)

अमेठी। 

मनुष्य के जीवन में खेलों का महत्व सभ्यता एवं संस्कृति के आरम्भ से ही रहा है। प्राचीन समय में भी मनोरंजन के एक प्रमुख साधन के रूप में खेलों का महत्वपूर्ण स्थान था। उस समय आखेट, घुड़दौड़, बैलगाड़ी दौड़, तीरंदाजी आदि से शुरू हुई, खेलों की यात्रा महाभारत काल में शतरंज के प्राचीन रूप चौपड़ के साथ विकसित होते हुए आज विविध प्रकार के अनेक खेलों में परिवर्तित हो गयी है। प्राचीन काल में भी रोमन सभ्यता में ओलम्पिक खेलों का उल्लेख मिलता है, जिसकी आधुनिक परिणति प्रति चार वर्ष बाद होने वाले आधुनिक ओलम्पिक खेलों के भव्य आयोजन में देखी जा सकती है। आज क्रिकेट, फुटबाल, हॉकी, लॉन टेनिस, बैडमिन्टन, मार्शल आटर्स, तैराकी, तीरंदाजी, कुश्ती, बॉक्सिंग, जैसे अनेक खेलों के पूरे वर्ष बहुत से आयोजन विश्व में होते रहते है। आज इन सभी खेलों का स्वरूप वैश्विक हो गया है और देशों का मान-सम्मान इस बात से भी तय होने लगा है कि अमुक देशों में किस स्तर के खिलाड़ी है या अमुक देश में खेलों का ढाँचा विश्वस्तरीय है या नहीं या खेलों के प्रति देश में कितना समर्पण है, यूरोपीय देशों में यदि फुटबाल के प्रति दीवानगी साफ देखी जा सकती है, वहीं भारतीय उपमहाद्वीप के देशों में क्रिकेट के प्रति दीवानगी व जुनून जगजाहिर है। उत्तर प्रदेश की वर्तमान सरकार प्रदेश में खेलों का ढॉचा सुधारने व विश्वस्तरीय खेल अवसंरचना के माध्यम से प्रदेश के युवाओं में से विश्वस्तरीय खिलाड़ियों के निर्माण हेतु अनेक गंभीर प्रयास कर रही है। इन्हीं प्रयासों के अन्तर्गत देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्रमोदी जी द्वारा ग्राम-सलावा, तहसील-सरधना, जनपद-मेरठ में उत्तर प्रदेश के प्रथम खेल विश्वविद्यालय का शिलान्यास दिनांक 02 जनवरी, 2022 को किया गया है। माननीय प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश के प्रथम खेल विश्वविद्यालय के माध्यम से खिलाड़ियों के लिए चार शस्त्र देने की प्राथमिकता तय की है संसाधन, प्रशिक्षण की आधुनिक सुविधाएं, चयन में पारदर्शिता व अंतर्राष्ट्रीय एक्सपोजर। य़दि ध्यान से देखा जाए तो जब खेलों के क्षेत्र में अच्छे संसाधन उपलब्ध होंगे यथा अच्छी खेल सामग्री, अच्छे स्टेडियम, खिलाड़ियों के लिए अच्छे प्रशिक्षकों की व्यवस्था, प्रशिक्षण की आधुनिक, विश्वस्तरीय सुविधाएं होगी, प्रत्येक खेल मे खिलाड़ियों के चयन में भाईं-भतीजावाद के स्थान पर पारदर्शिता होगी, अन्तत: श्रेष्ठ रूप से चयनित खिलाडियों को अन्तर्राष्ट्रीय एक्सपोजर मिलेगा तो हमारे खिलाड़ी भी अधिक से अधिक पदक जीतने में समर्थ होगें। जिससे देश व प्रदेश का मान-सम्मान वैश्विक रूप से बढ़ेगा। साथ ही सबसे महत्वपूर्ण कार्य यह होगा कि हमारे देश-प्रदेश के युवाओं को खेलों के क्षेत्र में एक नई दिशा मिलेगी। हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद के नाम पर स्थापित होने वाला यह खेल विश्वविद्यालय प्रदेश सरकार की युवाओं के प्रति विकासशील सोच व उनकी सामर्थ्य को आगे बढ़ाने वाला सिद्ध होगा। प्रदेश में अपनी तरह का खेलों को समर्पित यह प्रथम विश्वविद्यालय प्रदेश के होनहार खिलाड़ियों के चयन, प्रशिक्षण व उन्हे नए क्षितिज उपलब्ध कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। 700 करोड़ रूपये की लागत से 91.38 एकड़ में बनने वाले उत्तर प्रदेश के प्रथम खेल विश्वविद्यालय का नाम हॉकी के जादूगर व महान खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद के नाम पर मेजर ध्यानचंद खेल विश्वविद्यालय, मेरठ रखा गया है। खेलों के क्षेत्र में भारतीय युवा पीढी मेजर ध्यानचंद के भारतीय हॉकी को दिए योगदान से परिचित हैं और उनसे प्रेरणा लेती रहती है। इस खेल विश्वविद्यालय में खेलों का विश्वस्तरीय शिक्षण व प्रशिक्षण दिया जाएगा, जिसके माध्यम से ओलम्पिक व अन्य अन्तर्राष्ट्रीय व राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं के लिए खिलाड़ियों को मानसिक व शारीरिक रूप से तैयार किया जाएगा। इस यूनिवर्सिटी में खेल, खेलविज्ञान तथा खेल प्रतियोगिता के विभिन्न पाठ्यक्रमों के साथ प्रशिक्षण एवं शोध कार्य किया जाएगा। खेल भी एक विज्ञान है। साथ ही प्रत्येक खेल का एक विज्ञान है। इसी भावना व सोच के साथ जीतने के जज्बे को लेकर विश्वविद्यालय मे शोधकार्यों को बढावा दिया जाएगा ताकि हमारे खिलाड़ी विभिन्न खेलों में विश्वस्तरीय प्रदर्शन के माध्यम से पदकों को जीत सके। खेल विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में प्रदर्शन के आधार पर विभिन्न डिग्रियाॅ प्रदान की जाएगी। विश्वविद्यालय में 540 पुरूष तथा 540 महिला खिलाड़ियों सहित कुल 1080 खिलाड़ियो के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था रहेगी। यहां विशेष खेल केन्द्र, आधुनिक मैदान, स्वीमिंग पूल, वेलोड्रम, साइक्लिंग ट्रैक और हाइटेक माडर्न स्पोर्टस इन्फ्रास्टक्चर स्थापित किया जा रहा है। जिससे खिलाड़ियों एवं प्रशिक्षकों को विश्वस्तरीय सुविधाएं मिल सके। लक्ष्य यही है कि हमारे खिलाड़ी विभिन्न राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में श्रेष्ठ प्रदर्शन कर देश दुनिया में अपना नाम तो रोशन करे ही साथ ही देश व प्रदेश की प्रतिष्ठा भी बढ़े। प्रदेश के खेल विश्वविद्यालय में एथेलेटिक्स, विभिन्न प्रकार के आउटडोर गेम्स, ट्रैक एण्ड फील्ड, शूटिंग रेंज, जैवेलिन थ्रो, भारोत्तोलन, कुश्ती, बॉक्सिंग, क्याकिंग एण्ड कैनोइंग की ट्रेनिंग की उच्चस्तरीय व्यवस्था तो रहेगी ही साथ भारत के पारम्परिक खेल जैसे मलखम्ब, खो-खो आदि का प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। खेल विश्वविद्यालय में फिजिकल एजुकेशन, हेल्थ एण्ड एलाइड स्पोर्ट्ज साइसेंज, स्पोर्ट्ज मैनेजमेंट एण्ड टेक्नोलॉजी, स्पोर्ट्ज कोचिंग, स्पोर्ट्ज जर्नलिज्म एण्ड मॉस मीडिया टेक्नोलॉजी, एडवेंचर स्पोर्ट्ज बैचलर इन स्पोर्ट्ज, डिप्लोमा सर्टिफिकेट, परास्नातक तथा पी0एच0डी0 में पठन-पाठन की सुविधा भी होगी। इस प्रकार के विभिन्न पाठ्यक्रमों के माध्यम से जहाँ एक ओर विश्वस्तरीय खिलाड़ी तैयार होंगे, वही दूसरी ओर खेलों के क्षेत्र में व्यापक रोजगार के अवसर भी उपलब्ध होंगे। जैसे फिटनेस ट्रेनर, प्रशिक्षक, जिम संचालक, फिजीयोथिरेपिस्ट, स्पोर्ट्ज कोच, स्पोर्ट्ज मीडिया आदि के अनेक रोजगार के अवसर बढ़ेगे व इनमें योग्य अभ्यर्थी उपलब्ध हो सकेंगे। यह खेल विश्वविद्यालय अन्तर्राष्ट्रीय मानकों के आधार पर बनाया जा रहा हैं। ग्रीन बिल्डिंग स्टैंडर्डस पर बनने वाले इस खेल विश्वविद्यालय को भारतीय पारम्परिक वास्तुकला के आधार पर बनाया जायेगा। इसके परिसर को पूर्णत, पर्यावरण अनुकूल बनाने के लिए ग्रीन एनर्जी के उत्पादन की व्यवस्था भी की जा रही है। खेलों की दुनिया अद्भुत व अनोखी होती है। रोमांच, मनोरंजन, एकता, अनुशासन, न्याय, भ्रातृत्व, अपनापन जैसे बहुत से गुण खेलों से सीखने को मिलते है। साथ ही एक प्रसन्नचित्त वातावरण का जैसा निर्माण खेलों के माध्यम से होता है, वह अन्य कही देखने को कदाचित ही मिलता है। उत्तर प्रदेश सरकार के मुखिया श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा प्रदेश के युवाओं को खेल विश्वविद्यालय के रूप में बहुत उपयोगी, महत्वपूर्ण सार्थक व समयानुकूल सौगात दी गयी है। प्रदेश सरकार का खेल विश्वविद्यालय बनाने का निर्णय प्रदेश को खेलो के क्षेत्र में बुलंदियों पर ले जाना वाला सिद्ध होगा।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company