देश

national

चुनाव को प्रभावित करने अपराधियों पर होगी सख्त कार्रवाई: एडीजी प्रशांत कुमार

लखनऊ।  

पुलिस एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने निष्पक्ष चुनाव कराने को लेकर कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा जेल में रहकर चुनाव को प्रभावित करने वाले अपराधियों की लिस्ट बना ली गई है। प्रदेश की सात जिलों की सीमा नेपाल से लगती है। कुमार ने बताया सुरक्षा को देखते हुए सीमा पर पुलिस चौकियों को स्थापित कर दिया गया है। उन्होंने कहा कुछ लोगों के लाइसेंसी असलहे को जमा करा दिया गया है। शेष को जमा कराया जा रहा है। 30 जिलों की सीमा अन्य प्रदेशों से लगती है। चुनाव के दौरान अवैध शराब प्रयोग पर भी लगाम लगा दी है। चुनाव के दौरान ड्यूटी करने वाले कर्मचारियों को कोरोना की दूसरी डोज का कार्य तेजी से किया जा रहा है। 

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में 403 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र हैं। राज्य में पुलिस, प्रशासन और निकाय के अधिकारियों ने आचार संहिता का पालन कराने के लिए मोर्चा संभाल लिया है और इसके लिए अब सभी विधानसभा क्षेत्रों में पर्यवेक्षकों की भी नियुक्ति होगी। चुनाव आयोग ने 15 जनवरी तक चुनावी रैली, रोड शो, पद यात्रा और साइकिल रैली पर भी रोक लगा दी है।

लखनऊ के जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी अभिषेक प्रकाश ने शनिवार को पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ ही नगर निगम के आयुक्त को भेजे गये आदेश में कहा कि शनिवार को विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 की घोषणा के साथ ही तत्काल प्रभाव से आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है।

उन्‍होंने कहा कि आदर्श आचार संहिता का शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराने के लिए नियुक्त किये गये समस्त अधिकारियों और कर्मचारियों को आदेशित किया जाता है कि वे भारत निर्वाचन आयोग, नयी दिल्‍ली द्वारा जारी आदेशों का अक्षरशः: कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराएं। प्रकाश ने चेतावनी दी कि किसी भी स्तर पर शिथिलता को गंभीरता से लिया जाएगा और संबंधित के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। जिलाधिकारी का निर्देश मिलते ही लखनऊ के नगर आयुक्त ने बैनर-पोस्टर, होर्डिंग आदि उतारने के लिए टीम लगा दी। शनिवार शाम से सक्रिय यह टीम रविवार को बैनर-पोस्टर हटाते देखी गई।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group