देश

national

बारिश संग ओलों से बिछ गए किसानों के अरमान

Monday, January 10, 2022

/ by Editor

लखनऊ

उत्‍तर प्रदेश में पिछले चार दिन से हो रही बारिश के बीच गिरे ओलों ने भी किसानों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। पश्चिमी यूपी और बुंदेलखंड में सभी फसलों को नुकसान हुआ है। योगी सरकार ने सभी जिलों से खेती को हुए नुकसान की रिपोर्ट मांगी है। अपर मुख्य सचिव राजस्व मनोज कुमार सिंह का कहना है कि सभी जिलों से फसलों के नुकसान की रिपोर्ट मांगी गई है। किसानों को मुआवजा दिया जाएगा।

चार दिन से बारिश तो यूपी के ज्यादातर जिलों में लगातार हो रही है, लेकिन शनिवार और रविवार को ओलावृष्टि ने मुसीबत और बढ़ा दी। बुंदेलखंड के एक बड़े हिस्से में ओले गिरे हैं। बांदा की पैलानी तहसील में खप्टिहां कलां, खरेई, अलोना, बबिया, बरेठी, भंडोली, छिरहूटा, गुगोली, दतरोली सहित 30 गांवों में भारी ओलावृष्टि हुई है। इससे वहां सरसों, चना, मटर, मसूर की फसलों को नुकसान हुआ है। गुलोली के किसान शुभम ने बताया कि वहां 50 से 100 ग्राम तक के ओले पड़े।

खटिप्हा कलां के चुन्नू यादव, राम किशोर और अच्छे लाल ने बताया कि ओले गिरने से खेतों में खड़ी फसल बर्बाद हो गई। नरैनी के नंदवारा, नौहाई, बांसी, देवरार, सढ़ा, रक्सी, गोरमऊ, कहला, छतैनी में भी ओलावृष्टि हुई। अतर्रा, ओरन और बबेरू तहसीलों के करीब 150 गांवों में बारिश और ओलावृष्टि से फसल को काफी नुकसान हुआ। महोबा और झांसी के करीब 290 गांवों में ओला गिरने से सभी फसलें जमीन पर बिछ गईं। ऐसी ही हाल पश्चिमी यूपी के कई जिलों में रहा।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company