देश

national

यूपी में 5 साल पहले दबंग और दंगाई ही कानून थे, योगी सरकार ने उस हालात से उबारा: पीएम मोदी

लखनऊ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की पहली डिजिटल रैली में पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी की सरकार और गुंडे, माफिया और दंगाइयों पर निशाना साधते हुए कहा कि “हम यूपी में बदलाव के लिए खुद को खपा रहे हैं जबकि वो आपसे बदला लेने की ठानकर बैठे हैं।” उन्होंने कहा कि पांच साल पहले दबंग और दंगाई ही कानून थे, उन्हीं का कहा शासन का आदेश था लेकिन पांच साल में योगी सरकार उप्र को इन हालातों से बाहर निकालकर लाई है और ये कोई मामूली कार्य नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को पश्चिमी उत्तर प्रदेश के पांच जिलों बागपत, शामली, गौतमबुद्ध नगर, मुजफ्फरनगर और सहारनपुर से जुड़े मतदाताओं को डिजिटल माध्‍यम से संबोधित किया।

मोदी ने कहा, ''मैं देखकर खुश हूं कि उप्र के लोग इन दंगाई सोच रखने वालों से बहुत सावधान, बहुत सतर्क हैं, उप्र की जनता वो पुराने दिन वापस नहीं चाहती है और इन बदला लेने वालों के बयानों को देखकर यूपी के लोगों ने ठान लिया है कि इस बार पहले से ज्यादा मतों से भाजपा को विजयी बनाना है।'' पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी की सरकार पर निशाना साधते हुए उन्‍होंने कहा, ''कोई भूल नहीं सकता कि पांच साल पहले यूपी को लेकर क्‍या चर्चा होती थी। पांच साल पहले दबंग और दंगाई ही कानून थे उन्हीं का कहा शासन का आदेश था, पांच साल पहले व्यापारी लुटता, बेटी घर से बाहर निकलने में घबराती थी और माफिया सरकारी संरक्षण में खुलेआम घूमते थे। पश्चिमी यूपी के लोग कभी नहीं भूल सकते कि जब यह क्षेत्र दंगे की आग में जल रहा था तो पहले वाली सरकार उत्‍सव मना रही थी।'' 

उन्‍होंने कहा, ''पांच साल पहले गरीब, दलित, वंचित, पिछड़ों के घर-जमीन-दुकान पर अवैध कब्जा, ये समाजवाद का प्रतीक था। लोगों के पलायन की आये दिन खबर आती थीं, अपहरण, फिरौती, रंगदारी ने मध्यम वर्ग को व्यापारियों को तबाह कर रख दिया, पांच साल में योगी सरकार उप्र को इन हालातों से बाहर निकालकर लाई है और ये कोई मामूली कार्य नहीं है।'' पश्चिमी उप्र के पांच जिलों की 21 विधानसभा क्षेत्रों के 98 मंडल इकाईयों (भाजपा की प्रखंड स्तरीय संगठनात्मक इकाई) पर सीधे प्रसारित होने वाले कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, ''हमारा काम और उनके कारनामे, उनकी कारस्तानी ये सब देखकर इस बार भी यूपी की जनता भाजपा को भरपूर आशीर्वाद देने आ रही है और इसमें भी जो हमारे फर्स्‍ट हैंड वोटर (जो पहली बार मतदान करने जा रहे) वे उत्साह और उमंग से भरे हैं भाजपा की सरकार बनाने के लिए। वे खुलकर भाजपा के साथ हैं। युवा भी समझ रहे हैं कि अब फ‍िर से यूपी को गुंडे माफियाओं के हवाले नहीं करना है।'' 

मतदाताओं का अभिनंदन करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ''पश्चिमी उप्र की ये वह धरती है जिसने 1857 की क्रांति में देश को एकजुटता संदेश दिया था। कमल के फूल और रोटी ने देश को बांटने वालों को मुंहतोड़ जवाब दिया। हम एकजुट रहेंगे तो कोई हमें कभी परास्‍त नहीं कर पाएगा।'' प्रधानमंत्री ने समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव का बिना नाम लिए उन पर तंज कसते हुए कहा, ''जो देश के अपने टीके पर विश्वास नहीं करते, वैज्ञानिकों पर भरोसा नहीं करते क्‍या वे यूपी के युवाओं की प्रतिभा का सम्मान कर सकते हैं। यूपी को ऐसी सरकार चाहिए जो अपनी विरासत पर गर्व करे और ज्ञान विज्ञान और आधुनिकता को बढ़ाए। ये काम भाजपा ही कर रही है और भाजपा ही कर सकती है।'' उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष अखिलेश यादव ने कोरोना टीका को भाजपा की वैक्सीन बताते हुए इससे सावधान रहने को कहा था। 

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group