देश

national

जिलाधिकारी ने इंटीग्रेटेड कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में स्वास्थ्य व अन्य अधिकारियों के साथ की बैठक, दिए आवश्यक निर्देश

Thursday, January 6, 2022

/ by Editor

० कोविड टीकाकरण की प्रगति बढ़ाने के दिए निर्देश।

० बाहर से आने वाले लोगों पर सतत् निगरानी रखते हुए कराई जाए सैंपलिंग- डीएम।

० भीड़भाड़ वाले स्थानों पर कोविड प्रोटोकोल को अनिवार्य रूप से सुनिश्चित कराया जाए।

० पी0ए0 सिस्टम के माध्यम से कोविड-19 से बचाव हेतु जन सामान्य को जागरूक करने के दिए निर्देश।

० दुकानों पर "मास्क नहीं, तो सामान नहीं" का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने के दिए निर्देश।

० ग्राम/मोहल्ला निगरानी समितियों को पूर्व की भांति सक्रिय करने के दिए निर्देश।

० जन सामान्य शासन द्वारा जारी कोविड-19 गाइडलाइन का पालन अनिवार्य रूप से करें- डीएम।

हरिकेश यादव-संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)

अमेठी । 

जिलाधिकारी अरुण कुमार ने  आज सीएमओ कार्यालय में संचालित एकीकृत कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में प्रभारी इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम, प्रभारी सर्विलांस, प्रभारी सैम्पलिंग, प्रभारी स्टोर, प्रभारी टीकाकरण, अपर जिलाधिकारी, अपर पुलिस अधीक्षक, मुख्य विकास अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी सहित अन्य अधिकारियों के साथ कोविड-19 व उसके टीकाकरण के संबंध में चल रही समस्त कार्यवाही की विस्तृत समीक्षा कर प्रभावी कार्यवाही करने हेतु संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान समस्त उपजिलाधिकारी भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े रहे। बैठक में जिलाधिकारी ने सर्वप्रथम कोविड टीकाकरण की समीक्षा किया, जिसमें जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि जनपद अमेठी में 18 वर्ष से ऊपर आयु के कुल 1422943 व्यक्तियों के सापेक्ष 1273381 व्यक्तियों को प्रथम डोज तथा 773249 व्यक्तियों को द्वितीय डोज की वैक्सीन लगाई जा चुकी है, साथ ही 3 जनवरी 2022 से 15 से 18 वर्ष के युवाओं को वैक्सीन लगाई जा रही है, जिसमें लक्ष्य 130991 के सापेक्ष 6333 युवाओं को प्रथम डोज लगाई गई है। जिलाधिकारी ने कहा कि जिन लोगों की दूसरी डोज लंबित है उनकी दूसरी डोज लगाने पर विशेष ध्यान दिया जाए, वैक्सीनेशन हेतु ज्यादा से ज्यादा मोबाइल टीमें क्षेत्र में भेजा जाए, साथ ही टीकाकरण के उपरांत covin पोर्टल पर भी फीडिंग सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने कहा कि 50% से कम वैक्सीनेशन वाले क्षेत्रों की एएनएम से प्रतिदिन फीडबैक लिया जाए तथा टीकाकरण की प्रगति बढ़ाने के निर्देश दिए जाएं, लगातार निर्देश देने के बावजूद भी टीकाकरण की प्रगति कम रहने की दशा में संबंधित एएनएम के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाए। 15 से 18 वर्ष के युवाओं के वैक्सीनेशन के लिए जिलाधिकारी ने सभी विद्यालयों में कैंप लगाने के निर्देश दिए। इसके साथ ही बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि ग्राम/मोहल्ला निगरानी समितियों को पूर्व की भांति सक्रिय किया जाए तथा विदेशों तथा अन्य प्रदेशों से आने वाले व्यक्तियों पर सतत निगरानी रखी जाए, बाहर से आने वाले व्यक्तियों की निगरानी समिति के माध्यम से चेकिंग कराते हुए उनकी सैम्पलिंग कराई जाए, विदेशों से आने वाले व्यक्तियों के लिए एल-2 कोविड हास्पिटल में अलग से फैसिलिटी आइसोलेशन वार्ड बनाया जाए, रेलवे/बस स्टेशनों पर आने वाले व्यक्तियों की अनिवार्य रूप से सैंपलिंग कराई जाए, सभी कार्यालयों में पूर्व की भांति कोविड हेल्प डेस्क स्थापित कराए जाएं एवं आने वाले व्यक्तियों की जांच कराई जाए, पी0ए0 सिस्टम के माध्यम से पूर्व की भांति कोविड-19 के संबंध में जन सामान्य को जागरूक किया जाए, राशन की दुकानों पर 2 गज की दूरी व गोला बना कर राशन वितरण की कार्यवाही सुनिश्चित कराई जाए, मंडियों में भीड़भाड़ ना एकत्रित होने दिया जाए, दुकानों पर "मास्क नहीं, तो सामान नहीं" का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराया जाए, भीड़भाड़ वाले स्थानों, बाजारों, चौराहों पर मौजूद व्यक्तियों की सैंपलिंग कराई जाए। जिलाधिकारी ने सभी उप जिलाधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्रों में निगरानी समितियों को सक्रिय करते हुए उपरोक्त दिए गए निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। बैठक में डीएम ने कहा कि लोगों को कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करने, मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजर का प्रयोग करने के संबंध में लगातार जागरूक किया जाए।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Infotech-Leading IT Company